Monday, November 19, 2018

हिंदी करंट अफेयर्स 18 - 19 नवंबर 2018


1.   निम्नलिखित में से किस प्राइवेट बैंक ने हाल ही में भारत का पहला बटन वाला इंटरैक्टिव क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है? 
    -           इंडसइंड बैंक
2.   दिल्ली पुलिस द्वारा पुलिसकर्मियों को तकनीकी प्रशिक्षण देने के लिए किस पोर्टल की शुरुआत की गई? 
    -          निपुण
3.   निम्नलिखित में से किस भारतीय खिलाड़ी को हाल ही में यूनिसेफ द्वारा युवा एंबेसडर बनाया गया है? 
    -          हिमा दास
4.   निम्नलिखित में से किसे हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय का निदेशक नियुक्त किया गया है? 
    -          संजय कुमार मिश्र
5.   केंद्र सरकार द्वारा निर्भया फण्ड के तहत देश में कितनी फ़ास्ट ट्रैक अदालतों की स्थापना को मंजूरी प्रदान की गई है? 
    -          1023
6.   निम्नलिखित में महिला व बाल विकास कल्याण मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय महिला आयोग के लिए मनोनीत किये गये तीन सदस्यों में से कौन सा एक नहीं है?
    -           सावित्री देवी
7.   केंद्र सरकार ने हाल ही में IIFCL के लिए किस अंतरराष्ट्रीय बैंक के साथ 300 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किये? 
    -          एशियाई विकास बैंक
8.   भारत में किस दिन राष्ट्रीय प्रेस दिवस मनाया जाता है? 
    -          16 नवंबर
9.   प्रधानमंत्री ने हाल ही हरियाणा के किस क्षेत्र के लिए मेट्रो लाइन का उद्घाटन किया? 
    -           बल्लभगढ़
10.   हाल ही में किस देश के सेटेलाईट द्वारा खींची गई तस्वीर से पता चला है कि स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी अंतरिक्ष से भी साफ़ नज़र आता है?
    -           अमेरिका

Thursday, July 19, 2018

भारत की पहली महिला IPS ऑफिसर



केन्द्र शासित प्रदेश पुद्दुचेरी की उपराज्यपाल डॉ॰ किरण बेदी पूर्व भारतीय पुलिस सेवा की प्रथम वरिष्ठ महिला अधिकारी थी। उन्होंने दिसंबर 2007 में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर समाज सेवा का मार्ग चुना है| उन्होंने विभिन्न पदों पर रहते हुए अपनी कार्य-कुशलता का परिचय दिया है। वे संयुक्त आयुक्त पुलिस प्रशिक्षण तथा दिल्ली पुलिस स्पेशल आयुक्त के पद पर कार्य कर चुकी हैं। इस समय वे संयुक्त राष्ट्र संघ के शांति स्थापना ऑपरेशनविभाग में नागरिक पुलिस सलाहकारके पद पर कार्यरत हैं| उन्हें वर्ष 2002 के लिए भारत की सबसे प्रशंसित महिलाचुना गया।

डॉ॰ बेदी का जन्म सन् 1949 में पंजाब के अमृतसर शहर में हुआ। उनके मानवीय एवं निडर दृष्टिकोण ने पुलिस कार्यप्रणाली एवं जेल सुधारों के लिए अनेक आधुनिक आयाम जुटाने में महत्वपूर्ण योगदान किया है। वह राजनीति विज्ञान में व्याख्याता (1970-1972) विमेन, अमृतसर खालसा कॉलेज में अपने करियर शुरू किया। जुलाई 1972 में, वह भारतीय पुलिस सेवा में शामिल हो गई, ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला बनी।

व्यावसायिक योगदान के अलावा उन्होंने दो स्वयं सेवा संस्थाओ की स्थापना की है 1988 में स्थापित नव ज्योति एवं 1994 में स्थापित इंडिया विजन फाउंडेशन। ये संस्थाएं रोजना हजारों गरीब बेसहारा बच्चों तक पहुँचकर उन्हें प्राथमिक शिक्षा तथा स्त्रियों को प्रौढ़ शिक्षा उपलब्ध कराती है।



विश्व का सबसे बड़ा क्रूज जहाज


विश्व का सबसे बड़ा क्रूज जहाज हार्मोनी ऑफ़ द सीजकी बात ही कुछ खास है। ये जहाज पेरिस के एफिल टावर से भी ऊँचा है और इसका वजन टाइटैनिक के वजन से दो गुना है। इस जहाज में मिनी गोल्फ कोर्स, ऑडिटोरियम, रोप स्लाइड, थिएटर, सेन्ट्रल पार्क आदि कई सुविधाएँ है। इसीलिए इस जहाज को तैरता हुआ शहर कहना गलत नहीं होगा। क्रूज जहाज को यूएस बेस्ट रोयल कैबेरियन क्रुजेस लिमिटेड कंपनी के लिए बनाया गया है। इस जहाज का निर्माण फ़्रांस में 2013 में शुरू हुआ था। तकरीबन 2500 लोगों ने जहाज के निर्माण में काम किया है। फ़्रांस के सेंट नजायर में एक भव्य सरेमनी द्वारा इस जहाज को उसके मालिक को सौंपा दिया गया है। 29 मई को ये जहाज अपनी पहली यात्रा का आरंभ करेगा। इस जहाज की लम्बाई 1187 फीट, चौड़ाई, 218 फिट और इसका वजन 1.2 लाख टन है। जहाज में 8500 यात्री यात्रा कर सकते है; जिसमें 6360 यात्री और 2100 चालक दल के सदस्य। ये जहाज इको फ्रेंडली है, अपनी कैटेगरी के दो सबसे बड़े जहाज से 20 फीसदी कम कार्बन डायोक्साईड प्रोड्यूस करता है।

ब्रेल लिपि कैसे काम करती है?

कहा जाता है इंसान सक्षम और अक्षम सिर्फ अपनी सोच से ही होता है| अगर वह ठान ले तो हर चुनौतियाँ और कमियाँ उसकी लगन के आगे घुटने टेक देती है| और सिर्फ इतना ही नहीं, कई दुसरे व्यक्तियों के लिए भी आगे बढ़ने का रास्ता और मिसाल छोड़ जाते है|

ऐसा ही एक नाम लुइस ब्रेल का है| उन्होंने एक हादसे में अपनी आँखों की रौशनी गवा दी| इनकी ब्रेल लिपि की मदद से आज दुनिया में ऐसे लाखो लोग जो देख नही सकते थे पर पढ़ना सीखकर अपने पैरों पर खड़े हो गये|



लुइस का जन्म 1809 में फ़्रांस में हुआ था| उनके पिता की काठी बनाने की दुकान थी| परिवार में कुल 4 भाई बहन थे, जिसमें लुइस सबसे छोटा था| तीन साल के उम्र में वे जब दुकान में खेल रहे थे; उसी दौरान लेदर के टुकड़े में वह नुकीले औजार से छेद करना चाहा| और वह औजार हाथ से फिसल कर उनकी आँख में चला गया| इस कारण उनकी आँख में गंभीर चोट आई और इन्फेक्शन हो गया और धीरे-धीरे यह इन्फेक्शन दूसरी आँख में भी चला गया| इस हादसे में 5 साल की ही उम्र में उनकी आँखों की रौशनी पूरी तरह से चली गई|

यह गंभीर हादसे के बाद भी लुइस कभी हिम्मत नही हारे| वे इसी चीज बनाना चाहते थे; जिससे दृष्टिहीन लोगों की मदद कर शके| इस कारण वे अपने नाम से एक राइटिंग स्टाइल बनाई; जिसमें सिक्स डॉट कोड्स थे और वही स्क्रिप्ट आगे चलकर 'ब्रेल' के नाम से जानी गई|

लुइस को संगीत में काफी दिलचस्पी थी और वह कई तरह के यंत्र बजा लेते थे| टी.बी. की बिमारी के कारण 43 साल की उम्र में उनका निधन हो गया|

इस लिपि का आविष्कार 1821 में लुइस ब्रेल ने किया था| इस लिपि में पहली किताब 1829 में प्रकाशित हुई थी| इसमें प्रत्येक आयताकार सेल में 6 डॉट्स होते है, जो थोड़े उभरे हुए होते है| इस डॉट्स की औसतन ऊंचाई 0.02 इंच होती है| इसे पढ़ने की विशेष तकनीक होती है पर विश्व भर में इस पढ़ने का कोई मानक मापदंड नही है| 

आधुनिक ब्रेल लिपि में 8 डॉट्स के सेल में विकसित किया गया है, ताकि अंधे लोगों को अधिक से अधिक शब्दों पढने की सुविधा उपलब्ध हो सके| इसमें अब 64 की बजाय 256 अक्षर, संख्या और विराम चिह्न पढ़ सकने की सुविधा उपलब्ध है|



Tuesday, July 10, 2018

ओलंपिक का इतिहास


खेल मनुष्य के जीवन का एक बहोत महत्वपूर्ण भाग माना जाता है| हाँ यह दूसरी बात है कि किसी व्यक्ति अपने नित्य क्रम में उसे उतारे| कोई अपने आनंद प्रमोद के लिए, तो कोई अपने शरीर कि सर्वश्रेष्ठ बनाए रखने के लिए खेलता है, तो कोई अपने देश कि प्रतिष्ठा के लिए खेल को अपनी कारकिर्दी बनाता है|

अगर हम भूतकाल को देखे तो हजारो साल पहले मनुष्य जब सक्रांति और विकास कि स्थिति से बहुत दूर था; तब उस समय भी एथेंस खाते ओलंपिक का खेल खेला जाता था| आधुनिक ओलंपिक खेल की उत्पत्ति प्राचीन ओलंपिक खेलो से जुडी हुई है| यदि संक्षेप में कहे तो जो प्राचीन ओलंपिक खेल अस्तित्व में नही होता तो शायद आज आधुनिक ओलंपिक भी नहीं होती|



ओलंपिक का इतिहास करीब 2800 वर्ष से भी पुराना है| इस रमतोत्सव की शरुआत .. पूर्वे 776 में ग्रीस के प्राचीन देवता 'जीयस' के सम्मान हुई| .. पूर्वे 394 तक प्रत्येक 4 वर्ष इस रमतोत्सव का आयोजन होता था; पर इसके बाद रोम के राजवी थियोडोसियसे इस पर प्रतिबंध मूक दिया| इसके बाद करीब 1500 वर्ष तक यह खेलोत्सव बंध रहा|

यह खेलोत्सव को पुन: प्रारंभ करने का श्रेय फ़्रांस के बैरोन पियरे डी कुबर्तिन को जाता है| .. 1875 में सबसे पहला ओलम्पिया स्टेडियम की खोज हुई| कुबर्तिन के प्रयास से ग्रीस की राजधानी एथेंस में .. 1896 में प्रथम बार आधुनिक ओलंपिक खेल का आयोजन किया गया| शुरू में तो इस में सिर्फ पुरुषो ही भाग लेते थे; पर .. 1900 से स्त्री भी इस में भाग लेने लगी|

ओस्ट्रेलिया, फ़्रांस, ग्रेट ब्रिटन, ग्रीस और स्विट्जरलैंड यह ऐसे पांच देश है जो अब तक खेली गई हर ओलंपिक खेल में भाग लिया हो| और अब तक खेली गई हर ओलंपिक खेल में सुवर्णचंद्रक प्राप्त हुआ हो ऐसा विश्व का एक मात्र देश ब्रिटेन है|

International Olympic Committee, ओलंपिक खेलोत्सव का संचालन करती संस्था है| इस में 1 अध्यक्ष, 3 उपाध्यक्ष और 7 अन्य सभ्य होते है| इसका कार्यकाल 4 वर्ष का होता है| यह संस्था ओलंपिक खेल का आयोजन स्थल, नियम, संचालन जैसी चीजों को निर्धारित करती है|


इस खेल के लिए सबसे पहला ध्वज कुबर्तिने 1913 में निर्मित किया था| इस की लम्बाई 3 फीट और उसकी चौड़ाई 2 फीट है| 2.06 मीटर * 6 से.मी. की एक दुसरे के साथ विलय हो गई हो ऐसी पांच रिंग इस ध्वज का प्रतिक है; जो विश्व के पांच महत्वपूर्ण देशों का प्रतिनिधित्व करती है|
एशिया - पीला रंग
यूरोप - नीला रंग
अफ्रीका - काला रंग
अमेरिका - लाल रंग
ऑस्ट्रेलिया - हरा रंग

यह रमतोत्सव का मुख्य उदेश्य विश्व के सभी लोगों को एक मंच पर इकठा कर के विश्वोत्सव मनाना है| इसका मुद्रालेख वाक्य सैटिटस, एल्तिस और फोर्टियस है अर्थात अधिक तेजी से, अधिक ऊँचे और ताकात से|