Tuesday, February 9, 2016

भारत के प्रथम राष्ट्रपति

            डॉ.राजेन्द्र प्रसाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति थे। उसका जन्म ३ दिसम्बर १८८४ में बिहार के सारन जिल्ले के जिरादेई गाँव में हुआ था। वे भारतीय स्वाधीनता आंदोलन के प्रमुख नेताओं में से थे। जिन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कोंग्रेस के अध्यक्ष के रूप में प्रमुख भूमिका निभाई थी और भारतीय सविंधान के निर्माण में भी अपना योगदान दिया था। जिसकी परिणति २६  जनवरी १९५० को भारत के एक गणतंत्र के रुप में हुई थी। राष्ट्रपति होने के अतिरिक्त उन्होंने स्वाधीन भारत में केन्द्रीय मन्त्री के रूप में भी कुछ समय के लिए काम किया था।
    पुरे देश में अत्यन्त लोकप्रिय होने के कारण उन्हें ‘राजेन्द्र बाबू’ या ‘देशरत्न’ कहकर पुकारा जाता था। भारत के स्वतन्त्र होने के बाद सविंधान लागू होने पर उन्होंने देश के पहले राष्ट्रपति का पदभार सँभाला। १२ वर्षो तक राष्ट्रपति के रूप में कार्य करने के पश्चात उन्होंने १९६२ में अपने अवकाश की घोषणा की। अवकाश ले लेने के बाद ही उन्हें भारत सरकार द्वारा सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से नवाज़ा गया।



Image Credits: Wikipedia
Source Credits: Wikipedia

No comments:

Post a Comment