Monday, March 21, 2016

रंगों का त्योहार



     रंगों का त्योहार कहा जाने वाला होली का यह पर्व पारंपरिक रूप से दो दिन मनाया जाता है। होली वसंत ऋतु में मनाया जाने वाला भारत का अत्यंत महत्वपूर्ण और प्राचीन त्योहार है, जो होली या होलिका नाम से भी मनाया जाता है।  यह पर्व हिंदू पंचाग के अनुसार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। यह प्रमुख रूप से भारत तथा नेपाल में मनाया जाता है, और कई अन्य देशों जिनमें हिन्दू लोग रहते हैं वहां भी धूम धाम के साथ मनाया जाता हैं। पर्व के पहले दिन होलिका जलायी जाती है, जिसे होलिका दहन भी कहते है, और दुसरे दिन को धुलेंडी कहा जाता है। इस दिन लोग पुरानी कटुता को भूल कर गले मिलते हैं और फिर दोस्त बन कर एक दुसरे पर रंग, अबील-गुलाल इत्यादि फेंकते हैं, और घर-घर जा कर लोगों को रंग लगाते है। 
    राग-रंग का यह लोकप्रिय पर्व वसंत का संदेशवाहक भी है। होली के पर्व से अनेक कहानियाँ जुड़ी हैं। इनमें सबसे प्रसिद्ध प्रहलाद की कहानी है।



Image Credits: Wikipedia
Source Credits: Wikipedia