Thursday, March 3, 2016

अंतरिक्ष पर पहुँचनें वाली पहली भारतीय महिला

    भारत की बेटी कल्पना चावला का जन्म १७ मार्च १९६२ हरियाणा में एक भारतीय परिवार में हुआ था। वह एक भारतीय अमरीकी अंतरिक्ष यात्री और अंतरिक्ष शटल मिशन विशेषज्ञ थी। १९८८ के अन्त में उन्होंने नासा के एम्स अनुसंधान केंद्र के लिए ओवेर्सेट मेथड्स इंक के उपाध्यक्ष के रूप में काम करना शरु किया। बाद में १९९५ में नासा के अंतरिक्ष यात्री कोर में शामिल हुई और उन्हें १९९८ में अपनी पहली उड़ान के लिए चुना गया था।
    वह अंतरिक्ष में उड़ने वाली भारत में जन्मी प्रथम महिला थी और भारतीय मूल की दूसरी व्यक्ति थी। उसकी दूसरी अंतरिक्ष यात्रा ही उनकी अंतिम यात्रा साबित हुई। नासा तथा विश्व के लिये यह एक दर्दनाक घटना थी। अंतरिक्षयान पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करते ही टूटकर बिखर गया। ये अंतरिक्ष यात्री तो सितारों की दुनिया में विलीन हो गए लेकिन इनके अनुसंधानों का लाभ पुरे विश्व को अवश्य मिला। इस तरह कल्पना चावला के यह शब्द सत्य हो गए, “मैं अंतरिक्ष के लिए ही बनी हूँ, प्रत्येक पल अंतरिक्ष के लिए ही बिताया है और इसी के लिए ही मरुँगी”|
 



Image Credits: Wikipedia
Source Credits: Wikipedia