Friday, June 23, 2017

पुनर्चक्रण करके क्या हो सकता है?

क्या आपको पता है पुनर्चक्रणका सही उपयोग कैसे किया जाता है चलो जाने, पुनर्चक्रण का अर्थ यह होता है की कोई भी वस्तु का पुनः उपयोग किया जाए जैसे कागज, कांच, प्लास्टिक आदि| पुनर्चक्रण की मदद से हमारे पर्यावरण को सुरक्षित किया जाता है। इसके माध्यम से उर्जा भी बचाई जाती है, जिनके कारण ग्रीन हाउस गैस की मात्रा कम होगी और यह मौसम और जलवायुकों नियंत्रण में रखते है।
क्या आप जानते है की.....


  • एक कागज कों पुनर्चक्रण करके 2600 लिटर तेल और 27,000 लिटर जल कों बचाया जाता है।
  • हर दिन 27000 वृक्ष टॉयलेट पेपर बनाने के लिए काट दिए जाते है

  • आज भी 95% डेटा कागज पर संग्रहित होता है जिसमे से कही डेटा कों एक बार प्रयोग किया जाता है।  

  • एक प्लास्टिक की बोतलकों पुनर्चक्रण करके 60w बल्ब कों प्रकाशित करके 6 घंटे चलाकर उर्जा कों बचाया जाता है।  
  • हर घंटे अमेरिकावासी 25 मिलियन प्लास्टिक की बोतलों कों एसे ही फेंक देते है।

  • एक कागज कों पुनर्चक्रण करके 17 जितने वृक्षों कों बचाया जाता है।

  • वर्तमान समयमे पुनर्चक्रणका रेट 34.5% है यदि ये रेट कों 75% कर दिया जाए तो कार्बनडाइऑक्साइड गैस बहुत ही कम हो जायेगा।
    फिनलैंड देशमें हर नागरिक प्लास्टिक की बोतलकों पुनर्चक्रण कर देते है। 




image credit   : Wikipedia
image Source : Wikipedia