Monday, July 31, 2017

हिन्दी साहित्य के उपन्यास सम्राट - प्रेमचंद


       हिन्दी साहित्य में प्रेमचंद का बहुत योगदान है। तभी से ‘प्रेमचंद्युग’ का निर्माण हुआ और ‘उपन्यास के सम्राट’ माना गया। हिन्दी तथा उर्दू भाषा में प्रेमचंद ने उपन्यास, कहानी, नाटक, निबंध आदि विधा प्रदान की है जिनमें से उपन्यास 'गबन', 'गोदान’ तो कहानी 'ईदगाह', 'कफन' तथा नाटक 'कर्बला' और निबंध ‘चांद', 'मर्यादा' आदि विधाओ प्रदान की है। 


       प्रेमचंद का जन्म ३१ जुलाई, १८८० को वाराणसी के लमही गाव में हुआ था। प्रेमचंद के माता-पिता आनन्दी देवी और मुंशी अजायबराय थे। प्रेमचंद आर्यसमाज के प्रबंक थे। प्रेमचंद का पहली शादी सफल ना होके उन्होंने बाल विधवा शिवरानी देवी से शादी की। तब विधवा को दुबारा शादी करने की अनुमति नही थी। इस तरह वह विधवा-विवाह का समर्थक थे। प्रेमचंद को पहले “नवाबराय” से जाना गया था। 

       प्रेमचंद का पहला कहानी संग्रह ‘सोज़े-वतन’ है, जो १९०८ में प्रकाशित हुआ। “सोजे-वतन” में देशभक्ति की भावना को जगाया था। अंग्रेज़ सरकार ने रोक लगा दी और इसके लेखक को भविष्य में इस तरह का लेखन न करने की चेतावनी दी। इसलिए वह प्रेमचंद के नाम से ही लिखना शुरू किया था। प्रेमचंद का ८ अक्तूबर, १९३६ को निधन हुआ। प्रेमचंद की स्मृति में भारतीय डाकतार विभाग की और से सन १९८० को उनकी जन्मशती के अवसर पर ३० पैसे का जारी किया गया।

image credit : Wikipedia
image Source : Wikipedia






Sunday, July 30, 2017

विश्व की सबसे छोटी चिड़िया

    

हमिंग बर्ड विश्व की सबसे छोटी चिड़िया है । हमिंग बर्ड को हिंदी में गुंजन पक्षी कहते है । हमिंग बर्ड सबसे छोटे पक्षियों का एक कुल है जिसे ट्रोकिलिडी (Trochilidae) कहते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम नैक्टरीनिया ऐशियाटिका है। ये किसी भी दिशा में पंख फैला कर उड़ सकती है । इस वंश की अधिकांश पक्षियों की माप ७.५ माप लगभग ५ सेमी और भार २.५ ग्राम से कम होती है। 



हमिंग बर्ड अधिक मात्रा में अमेरिका में पायी जाती है । वो अपना ९० प्रतिशत भोजन फूलों की परागराज से लेती है । एक दिन में वो बहुत फूलों पर से परागराज लेती है । वो फुल के अंदर का मीठा तरल मधु पीती है । उसका दिल प्रति मिनट १२६० बार धडकता है ।

हमिंग बर्ड को ‘प्रकृति का हेलिकोप्टर’ कहा जाता है । हमिंग बर्ड 4-5 साल तक ही जिंदा रहती हैं। ये सांप, उल्लू या बड़े बर्डस का शिकार बन जाती हैं।

Image credit : wikipedia
Image Credit : Mdf  
    

Saturday, July 29, 2017

नाटक सम्राट - विलियम शेक्सपियर

"हम यह जानते हैं की हम क्या हैं; लेकिन हम यह नहीं जानते की हम क्या बन सकते हैं।"
 - विलियम शेक्सपीयर

दोस्तों आपने शेक्सपियर के बारे में तो जरुर सुना होंगा। इसे इंग्लैण्ड का राष्ट्रीय कवि भी कहाँ जाता था। उसकी कल्पना जितनी प्रखर थी; उतना ही गंभीर उनके जीवन का अनुभव था। शेक्सपियर की रचनओं की एक और आनंद की उपलब्धि होती थी; तो दूसरी और हमे गंभीर जीवनदर्शन भी प्राप्त होते थे। आप मानो तो प्रकृति ने उन्हें वरदान दे दिया था की उन्हों ने जो कुछ छुआ वः सोना हो गया!!!

अत्यंत उच्च कोटि की सर्जनात्मक प्रतिभा और कला के नियमो का सहज ज्ञान धारक विलियम शेक्सपियर 16वीं शताब्दी के जाने-मने अंग्रेज कवि, नाट्यकार और अभिनेता थे। इनका जन्म जॉन शेक्सपियर और मेरी आर्ड़ेन के जयेष्ठ पुत्र एवं तीसरे संतान के रूप में 26 अप्रैल 1564 में स्ट्रैटफोर्ड आन एवन में हुआ था

उनकी रचनाओं के तिथिक्रम के बारे में काफी मतभेद है। लगभग 20 वर्षो के साहित्यिक जीवन में उनकी सर्जनात्मक प्रतिभा निरंतर बढती गई। सामान्य तौर पर देखा जाए तो शेक्सपियर का विकासक्रम में चार अवस्था दिखाई देती है

प्रारंभिक काल में उनकी प्राय: सभी रचना प्रयोगात्मक थी; जो अनुकरणात्मक थी। यहाँ तक उन्होंने अपना मार्ग निश्चित नहीं कर पाए थे। यह अवस्था का अंत 1595 में हुआ। इसी ही अवस्था में उन्होंने विश्व प्रसिद्ध बुक 'रोमियो एंड जुलिएट' थी; जिसमे मौलिकता का अंश अपेक्षाकृत ज्यादा था

विकासक्रम की दूसरी अवस्था में उन्होंने विश्व को प्रौढ़ रचनाएँ भेंट की| इस अवस्था में उन्होंने अपना मार्ग निश्चित और आत्मविश्वास अर्जित कर लिया था। इसी अवस्था में लिखे गये नाटक 'मच एडो एबाउट नथिंग', 'ऐज यू लाइक इट' और 'ट्वेल्वथ नाइट' थे। इस अवस्था का अंत लगभग 1600 में समाप्त हुए

तीसरी अवस्था उनके जीवन में विशेष महत्व रखती है। इन वर्षो में पारिवारिक विपत्ति एवं स्वास्थ्य खराबी के कारण उनका मन अवसन्न रहता था। इसके कारण इन दिनों में अधिकांश रचनाएँ दुखांत थी; जिसमे विश्वप्रसिद्ध दु:खांत नाटक हैमलेट, आथेलो, किंग लियर और मेकबैथ एवं रोमन दु:खांत नाटक जूलियस सीजर, एंटोनी ऐंड क्लिओपाट्रा एवं कोरिओलेनस का समाविष्ट होता है| इस अवस्था का अंत लगभग 1607 में हुआ

शेक्सपियर विकास की अंतिम अवस्था में पेरिकिल्स, सिंवेलिन, 'दी विंटर्स टेल', 'दी टेंपेस्ट' प्रभृति नाटकों का सर्जन किया, जो सुखांत होने पर भी दु:खद संभावनाओं से भरे हैं एवं एक सांध्य वातावरण की सृष्टि करते हैं। इन सुखांत दु:खांत नाटकों को रोमांस अथवा शेक्सपियर के अंतिम नाटकों की संज्ञा दी जाती है।

1613 में शेक्सपियर स्ट्रैटफोर्ड से रिटायर हो गए। अपने जन्म दिन के सिर्फ 3 दिन पहले यानि की 23 अप्रैल 1616 में मृत्यु हो गए

क्या आप शेक्सपियर के बारे में जानते है???
  1. क्या आप जानते हो की विलियम शेक्सपियर ने कभी भी कोलेज अटेंड नहीं किया था
  2. उनके समय दौरान, उनके नाटकों में महिलाओं को अभिनय करने की अनुमति नहीं थी; इसलिए शेक्सपियर के सभी नाटकों में महिलाओं के पात्र पुरुषो ने निभाए थे
  3. उन्हें अपने नाटकों को प्रकाशित करने में रूचि नहीं थे| वे अपने नाटको को मंच पर प्रदर्शित करना चाहते थे
  4. 'बार्ड ऑफ़ एवन' उपनाम धारक शेक्सपियर ने अंग्रेजी में लगभग 1700 शब्दों को क्रिएट किया है; जो कुछ-बहोत लोकप्रिय भी रहे है
 img cradit : wikipedia

Friday, July 28, 2017

हिंदी करंट अफेयर्स 24-28 जुलाई-2017




1).  हाल ही में उत्तर प्रदेश के बलिया में उज्ज्वला योजना शुरू हुई; इस योजना अंतर्गत कितने वर्षो में 5 करोड़ रसोई गैस कनेक्शन वितरित करने का लक्ष्य है?
       
       Ans.3 वर्ष

2).  अमेरिका, जापान और नौसेना द्वारा बंगाल की खाड़ी में आयोजित किया गया संयुक्त नौसेना अभ्यास का नाम क्या है? 

       Ans. ओपरेशन मालाबार 

3).  26 जुलाई 2017 को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा की गयी घोषणा मुताबिक राज्य में बाघों की संख्या बढकर 242 हो गई है; इस एक वर्ष में बाघों की कितनी बढ़ोतरी हुए है? 

       Ans. 63 बाघों की 

4).  भारत के किस राज्य में स्वर्ण जयंती खंड योजना का आरम्भ हुआ है?
       Ans. हरियाणा
 
5).  रामनाथ कोविंद ने भारत के 14वें राष्ट्रपति के रूप में किस स्थान पर शपथ ग्रहण की?
       Ans. पार्लियामेंट सेंट्रल होल

6).  निम्न में से ब्रिटेन की कोर्ट ऑफ़ अपील में भारतीय मूल के पहले सिख जज कोन बने है?

        Ans. रबिंदर सिंह 


7).  दिल्ली के मैडम तुसाद संग्रहालय में मधुबाला की मोम की प्रतिमा स्थापित करने की घोषणा हुइ है; यह मधुबाला एक प्रसिद्ध.... है?

        Ans. अभिनेत्री

8).  कारगिल विजय दिवस कब मनाया जाता है? 

       Ans. 26 जुलाई

9).  निम्न में से किस युनिवर्सिटी की एक शोध ने खुलासा किया है कि बीते 65 सालों में मानव ने तकरीब 8.3 अरब मीट्रिक टन प्लास्टिक का उत्पादन किया है? 

       Ans. जार्जिया युनिवर्सिटी 

10).  सप्ताह में कम से कम एक वार राज्य की सभी स्कुल, कोलेज और युनिवर्सिटी में वंदेमातरम् गाना चाहिए; ऐसा किस हाई कोर्ट ने अनिवार्य क्र दिया है? 

       Ans. मद्रास हाई कोर्ट 






हिंदी करंट अफेयर्स 16 - 23 जुलाई 2017

(१) निम्न में से भारतीय क्रिकेट टीम का गेंदबाजी कोच कौन है? 

(अ) जहीर खान
(ब) शिवलाल यादव
(क) भरत अरुण
(ड) अनिल कुंबले

(२) भारतीय खगोलविंदो की एक टीम ने आकाशगंगा के एक बहुत बड़े सुपरक्लस्टर की खोज की है; जिसका नाम क्या है? 

(अ) सरस्वती
(ब) इंद्र
(क) मेघधनुष्य
(ड)  सप्तरंगी

(३) हाल ही में हुए राष्ट्रपति चुनाव के संदर्भ में कोन सा कथन सही है? 
1. भारत के 13वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद होंगे|
2. इस चुनाव में मीरा कुमारी पराजित हुए है|
3. नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ने 702044 मत हासिल किया है| 

(अ) कथन: 1 सही है
(ब) कथन: 2 सही है
(क) कथन: 2 और 3 सत्य है 
(ड) कथन:1, 2 और 3 सत्य है

(४) निम्न में से भारत के कौन से राज्य की सरकार ने अलग झंडे के लिए एक समिति बनाई है? 

(अ) तमिलनाडु
(ब) जम्मू-कश्मीर
(क) कर्णाटक
(ड) हरियाणा

(५) भारत के कौन से राज्य में तीन बार मुख्यमंत्री रहे है; वह नर बहादुर भंडारी का निधन हो गया?

(अ) हरियाणा
(ब) सिक्किम 
(क) तमिलनाडु
(ड) जम्मू-कश्मीर

(६) निम्न में से भारत ने कौन से देश में सौर परियोजना शुरू की है?

(अ) मिस्र
(ब) अमेरिका
(क) जापान
(ड) ओस्ट्रिया

(७) निम्न में से आइफा अवोर्ड 2017 में सर्वश्रेष्ठ फिल्म पुरस्कार किस फिल्म को मिला है? 

(अ) नीरजा
(ब) पिंक
(क) उड़ता पंजाब
(ड) कपूर एंड संस

(८) mAadhaar क्या है? 

(अ) आधार कार्ड की नई वेबसाइट
(ब) आधार की चिप
(क) Android app 
(ड) my Aadhaar

(९) 17 जुलाई 2017 को आयोजित हुए राष्ट्रपति चुनाव में कितने रंग के मतपत्रो का इस्तेमाल हुआ था? 

(अ) 1
(ब) 2
(क) 3
(ड) 4

(१०) उस अभिनेता का नाम बताए जिन्होंने 'एडवुड' फिल्म में बेला लुगोसी के किरदार के लिए ओस्कर पुरस्कार प्राप्त किया था और उनका हाल ही में निधन हुआ? 

(अ) मार्टिन लैंडो
(ब) डेविड क्राउन
(क) माइकल ग्रेग
(ड) जॉन रैपचर


१. (क) २. (अ) ३. (क) ४. (क) ५. (ब) ६. (अ) ७. () ८. (क) ९. () १०.()

Thursday, July 27, 2017

क्या ऑक्सीजन के कारण छोटे कीड़ो के कद मनुष्य से भी ज्यादा हो सक्ता है?


आज हम उन चीज पर बात करेंगे, जो हमारे जीने के लिए सबसे जरुरी है वह ऑक्सीजन की| आप अब तक ऑक्सीजन के बारे में बड़ी बड़ी बात सुनी होगी; पर आज आप छोटी छोटी बाते नहीं जानते होंगे। क्या आपको पता है की वातावरण में 21% ऑक्सीजन हमारे लिए कोई वरदान से कम नहीं है; क्योंकि 30 करोड़ साल पहले जब ऑक्सीजन 35% था तब छोटे छोटे कीड़ो का आकार बहुत बड़ा होने लगा था।

ऑक्सीजन खुद नहीं जलती। केवल ये दूसरी चीजों को जलने में मदद करती है। यदि ऑक्सीजन खुद जल सकती तो संभव होता कि माचिस की एक तीली जलाते समय ही वातावरण में फैली पूरी ऑक्सीजन में आग लग जाती।

यदि किसी भी डेड बोड़ी को ठंडे और बिना ऑक्सीजन वाली जगह पर रख दी जाए तो यह बोड़ी पिघले हुए मोम की तरह बन जाएगी; जो साबुन की तरह बिल्कुल चिकनी होगी।


यदि चूने में ऑक्सीजन और हाइड्रोजन मिलाया जाए तो यह बहुत तेज रौशनी पैदा करेगा। पुराने सिनेमाघरों में किसी जगह पर लाईट के ऐसा ही प्रयोग होता था।


यदि आज की तुलना में ऑक्सीजन दोगुना हो जाये तो क्या होगा?
कागज से बने हुए हवाई जहाज ज्यादा देर तक उडेंगे।

हमारी गाड़ियाँ कम पेट्रोल-डीजल में ज्यादा दूर तक जाने लगेगी। मजा आ जाएगा ना घुमने के लिए!!!

आज की तुलना में हम ज्यादा खुश और एक्टिव रहेगे; मतलब, सुस्ती खत्म। इसलिए खेल-कूद में बने अब तक के सारे रिकोर्ड टूट जाएगे। हम कम बीमार पडेंगे क्योंकि हमारी इम्यून सिस्टम और ताकतवर हो जाएगी; लेकिन हम बूढ़े भी जल्द होने लगेगे।

कीड़ो का आकार बहुत बड़ा हो जाएगा  क्योंकि कीटों का आकार ऑक्सीज़न पर निर्भर करता है।


यदि कुछ ही सेकंड के लिए धरती से ऑक्सीजन गायब हो जाए तो क्या होगा?

जब तक धरती पर ऑक्सीजन ना रहे तब तक धरती बहुत ही  बहुत ठंडी हो जाएगी।
दिन में भी अंधेरा छा जाएगा।

हर वह इंजन रूक जाएगा; जिसमें आंतरिक दहन होता है। रनवे पर टेक ऑफ कर चुका प्लेन वही क्रैश हो जाएगा।

धातुओ के टुकड़े बिना वैल्डिंग के ही आपस में जुड़ जाएगे।

पूरी दुनिया में सबके कानों के पर्दे फट जाएगे क्योंकि 21% ऑक्सीज़न के अचानक लुप्त होने से हवा का दबाव घट जाएगा। इसलिए सब का बहरा होना पक्का है।

कंक्रीट से बनी हर बिल्डिंग ढेर हो जाएगी।

हर जीवित कोशिका फूलकर फूट जाएगी।

पानी में 88.8% ऑक्सीज़न होती है। पानी में ऑक्सीजन ना होने पर हाइड्रोजन गैसीय अवस्था में आ जाएगी और इसका वोल्यूम बढ़ जाएगा।

हमारी साँसे बाद में रूकेगी; पर पहले  हम फूलकर ही फट जाएँगे।

समंदर का सारा पानी भाप बनकर उड़ जाएगा क्योंकि बिना ऑक्सीजन वाला पानी हाइड्रोजन गैस में बदल जाएगा और यह सबसे हल्की गैस होती है तो इसका अंतरिक्ष में उड़ना लाज़िमी है।

ऑक्सीजन का अचानक से गुम होने से हमारे पैरों तले की जमीन खिसककर 10-15 कि.मी. नीचे चली जाएगी।

Friday, July 21, 2017

जानिए लाई-फाई के बारे में.....


अब तक पुरे विश्व भर में डेटा ट्रांसफर के लिए वाई-फाई तकनीक का प्रयोग होता है; पर अब ऐसी तकनीक आ गई है, जो वाई-फाई से 100 गुना तेज होगी| इस तकनीक का नाम लाईफाई है| यह एक वायरलेस ब्रॉडबैंड तकनीक है, जिसमे डेटा ट्रांसफर करने के लिए एलईडी का इस्तेमाल होता है|

वाई-फाई रेडियो फ्रीक्वेंसी पर आधारित है; जबकि लाई-फाई प्रकाश पर आधारित है, जो वाई-फाई की तुलना में 100 गुना तेजी से डेटा ट्रांसफर करने में सक्षम है| इसमें डेटा का ट्रांसफर करने के लिये एलइडी बल्ब का प्रयोग जाता है यानि कि इस तकनीक में डेटा वीएलसी द्वारा ट्रांसफर होता है| जैसी की आपका टीवी रिमोट चलता है|

इस तकनीक खास बात यह है की लाई-फाई स्टार्ट-अप की स्थापना भारतीय ‘दीपक सोलंकी’ ने की थी| इस स्टार्ट-अप के सभी कर्मचारी भारतीय है| दीपक सोलंकी मुताबिक़ लाई-फाई तकनीक आम आदमी तक तीन से चार साल तक पहुचेगी|


इस तकनीक का फायदा यह है कि वाई-फाई की तरह दूसरे रेडियो सिग्नल के लिए अवरोध नहीं बनता है. इसलिए इसका इस्तेमाल हवाई जहाज जैसी उन जगहों पर किया जा सकता है जहां रेडियो सिग्नल में अवरोध की समस्या आती है। लाई-फाई तकनीक प्रकाश पर आधारित होने के कारण इसकी खामी यह है की लाई-फाई वाई-फाई सिग्नल की तरह दीवार या किसी ठोस वस्तु के आरपार जाने में असमर्थ है|

img cradit: flicker

क्या आप इन Science Facts को झूठ तो नहीं समझ रहे होना??? 

Thursday, July 20, 2017

क्या आप इन Science Facts को झूठ तो नहीं समझ रहे होना???

  1. आमतौर पर Science Facts पर विश्वास करना थोड़ा मुश्किल होता है। साइंस के नाम पर कई वैज्ञानिक अजीबोगरीब तरह की एक्सपेरिमेंट करते ही रहते है। इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे 'Science Facts' बता रहे है, जो शायद आपको पता न हो। 
  2. वैज्ञानिक आज तक ये निश्चित नहि कर पाए है कि डायनासोर का रंग क्या था।
  3. -40 डिग्री फारेनहाइट और -40 डिग्री सेल्सियस के बराबर है।
  4. आप एक नजरिये से देखो तो तापमान मापने के लिए Celsius स्केल Fahrenheit स्केल से ज्यादा अक्लमंदी से बनाया गया था; पर इसके निर्माता Andero Celsius अनोखे वैज्ञानिक थे।जब उन्होंने पहली बार इस स्केल को विकसित किया था, तब उन्होंने गलती से जमा दर्जा 100 और उबाल दर्जा 0 डिग्री बनाया; पर उन्हें कोई भी इस गलती को कहने का हौसला न कर सका। इसलिए बाद में वैज्ञानिको ने स्केल को ठीक करने के लिए उनकी मृत्यु का इंतजार किया
  5. क्या आप अपनी नजदीकी गैलेक्सी पर जाना चाहते हो? तो आप प्रकश की गति से भी जाएंगे तो भी 20 साल लगेंगे
  6. अगर धरती का आकार एक मटर जितना कर दिया जाए, तो ब्रुह्स्पति इससे 300मी. और प्लूटो 2.5कि.मी. के अंतर पर होगा; पर आपको प्लूटो दिखेगा नहीं क्योकि तब इसका आकार एक बैक्टीरिया जितना होगा
  7. हर घंटे ब्रह्मांड सभी दिशाओं में 1 billion miles से भी ज्यादा फैल जाता है

img cradit : flickr