Wednesday, September 20, 2017

भेड़ाघाट - धुंआधार जलप्रपात

मध्य प्रदेश का जबलपुर जो नर्मदा नदी के तट पर स्थित एक महत्वपूर्ण शहर है। यह पर्यटन स्थलों में महत्वपूर्ण माना जाता है। जबलपुर जिले में स्थित भेड़ाघाट में संगेमरमर की पहाड़ियों है। इस वजह से उसे संगेमरमर का शहर भी कहा जाता है। 
 
 यहा संगेमरमर की चट्टानों में धुआंधार नामक जलप्रपात बड़ा मनमोहक है, जो पर्यटकों को आकर्षित करता है। इस की उत्पति नर्मदा से होती है। इस प्रपात के गिरने की आवाज दूर-दूर तक सुनी जा सकती है। इसमें नन्ही बुँदे बिखरकर धुंए जेसा दृश्य बनाती है। इसलिए इसे ‘धुआंधार प्रपात’ नाम से जाना जाता है। चांदनी रात में यहा नौकायन करना यादगार पल बन जाता है।



नर्मदा नदी के दोनों तटो पर संगेमरमर की सौ फुट ऊँची चट्टानें भेड़ाघाट की खासियत है। यह सुरम्य पर्यटन स्थल को देखने के लिए हर साल कई प्रवासियो आते है। आजादी पूर्व एक विदेशी टूरिस्ट यहाँ का प्राकृतिक सुंदरता का उल्लेख अपनी पुस्तक में किया था। यह स्थान विदेशी को भी लुभाता है भारत का पूरातत्व द्वारा सरक्षित ‘चोसठ जोगनी मंदिर’ यहाँ पर ही स्थित है। इस की कुदरती करामत सिनेमा जगत को भी अपनी ओर खिचती है कही फिल्मो की शूटिग यहाँ पर हुई है। यहाँ प्रमुख रूप से दो चीज सबसे अधिक आकर्षित है; मार्बल रोक्स तथा धुआधार


धुआधार को दूर से देखने पर ये धुआ लगता है पर पास आने पर उससे प्यार हो जाता है इतना सुंदर है। यहाँ पर रोप –वे की सुविधा भी है। यहाँ होटल तथा रिसोर्ट भी स्थित है ताकि पर्यटकों को यहाँ रहने में ओई मुश्केली नहीं होती है। यहाँ पर आरसका नक्षीकाम जेवर, गिफ्ट आर्टिकल आदि विख्यात है।

image credit : Wikipedia
image Source : Wikipedia

 


No comments:

Post a Comment