Monday, September 25, 2017

दुनिया में मसाला उत्पादनमें भारत 70% योगदान !!


मसाले का इस्तेमाल हर कोई गृहिणी करती है, क्या आप जानते है? विश्व में 70% मसाले का उत्पादन भारत कर रहा है। हींग, लाल मिर्च, इलायची, सफेद मिर्च, काली मिर्च, काला जीरा, दालचीनी, लौंग, धनिया, सौंफ, मेथी, गरम मसाला, लहसुन, अदरक, आंवला, लंबी काली मिर्च, राई, सूखे जायफल, खसखस, तिल के बीज, केसर, इमली, पुदीना, हल्दी, सूखे मिर्च, आदि विभिन्न प्रकार के मसाले की खेती व्यापक रूप से भारतके अलग अलग राज्यों में हो रही है। 2010 से भारत विश्व मसाला उत्पादन के क्षेत्र में सबसे आगे है। 

भारतमें सब जगह मसाला का उत्पादन होता है पर सबसे ज्यादा उत्पादन केरल तथा आंध्रप्रदेश में किया जाता है जिसकी मांग यूरोप तक रहती है। केरल को ‘मसाले का बगीचा’ से जाना जाता है; वहा पर मसाला अनुसंधान संस्था भी है। हरियाणा तथा हिमाचल लहसुन और अदरक के उत्पादनमे सबसे अव्वल राज्य है। भारतमें सब प्रकार के मसाला प्राप्त होने के कारण उसे ‘मसाला का घर’ से जाना जाता है। 


मसाला का उत्पादन में भारत विश्व भर में पहचान बनाई है; इसके लाभ से भारतकी गृहिणी के लिए एक रोजगारी की तक पैदा हुई जो मसाला का उत्पादन करके सभी जगह बिकने का कारोबार चला रही है। यह उद्योग भारत का सबसे सफल उद्योग साबित हुआ है क्युकी दुनिया का तमाम प्रकार का मसाला भारतमें मिलाता है जहाँ भारत मसाला अधिक से अधिक निकास करता देश है।

image credit : Wikipedia
image Source : Wikipedia

 

 


No comments:

Post a Comment