Monday, October 9, 2017

एक समय पर काफी लोकप्रिय थी; पर अब हो गई है 'आउट ऑफ़ डेटेड' टेक्नोलोजी

दिन प्रतिदिन टेक्नोलोजी बहोत ज्यादा ही बदल रही है और नई नई टेक्नोलोजी के कारण आज जिस गेजेट्स का बटोत ज्यादा क्रेज़ होता है वह थोड़े समय के बाद 'आउट ऑफ़ डेट' टेक्नोलोजी बन जाती है। 90 के दशक में लेंडलाइन फोन हर घर की एक शान होती थी; पर मोबाईल के आगमन बाद इसकी आवश्यकता बिलकुल कम हो गई है। ऐसे तो बहोत सारे लोकप्रिय उपकरण है जो आज नामशेष हो गया है।

1) ब्रिक गेम

90 के दशक में यह गैजेट हर बच्चे के हाथ में दिखाई देता था। हालाँकि समार्टफोन में अब रियल फिल हो ऐसी गेम आ जाने के कारण बच्चे सिर्फ स्मार्टफोन पर ही गेम खेलना पसंद करते है। 'वर्च्युअल रियालिटी' के आगमन बाद तो हम भी गेम का एक हिस्सा है ऐसी फिलिंग आती है।

2) वॉकमैन

एक समय था जब अपना मनपसंद गाना सुनने के लिए हमे घर पर बैठना पड़ता था और बड़ी साइज़ के टेपरिकार्डर के अलावा हमारा पास कोई ऑप्शन नहीं था। इसके बाद 'वॉकमैन' का आगमन हुआ; जिसे हम कहाँ भी ले जा सकते थे। कैसेट लगाकर गाने सुनने वाला यह पहला डिवाइस था। अक्सर यह गैजेट जॉगिंग या ट्रैवलिंग करते लोगों के हाथों में दिखाई देता था। पर अब मोबाईल में अनलिमिटेड गाने स्टोर किया जा सक्ता है। परिणाम स्वरूप यह गैजेट पूरी तरह से बहार हो गया।

3) कैमकॉर्डर या हैंडीकैम

कैमकॉर्डर या हैंडीकैम मार्केट में आने के बाद काफी समय तक पॉपुलर गैजेट के रुप में लोगों के बीच रहा। लोग वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए इसका यूज करते थे; पर सीडी और डीवीडी के आगमन बाद इसका इस्तेमाल न के बराबर हो गया।


4) फ्लॉपी डिस्क

एक समय पर फ्लॉपी डिस्क की डिमांड काफी ज्यादा थी पर धीरे-धीरे इनकी जगह पेन ड्राइव और हार्ड ड्राइव लेनी लगी। जब इस गैजेट काफी लोकप्रिय था तब लोग इसे काफी संभालकर और सुरक्षित अपने पास रखते थे।

5) ट्रांजिस्टर रेडियो

जब स्मार्टफोन, मोबाइल और टीवी के आने के पूर्वे ट्रांजिस्टर रेडियो लोगों के मनोरंजन का सहारा होता था। इस पर लोग आकाशवाणी के जरिए आने वाले गानों का आनंद लेते थे। पर अब इसकी जगह स्मार्टफोन और आईपैड ने ले ली। इसलिए इस गैजेट का आज कोई नामोनिशान नहीं रहा है।

6) पेजर

जब इस दुनिया में मोबाइल और स्मार्टफोन नहीं आये थे, तब लोग लिखित क्म्यूनिकेशन के लिए पेजर का इस्तेमाल करते थे। इस गैजेट के जरिए टेक्स्ट मैसेज किया जा सकता था। हालांकि पेजर काफी लिमिटेड फीचर के साथ था। इससे सिर्फ 'वन वे कॉन्टेक्ट' ही किया जा सकता था।

7) टेलिक्स

टेलिक्स सिर्फ कोर्पोरेट और गवर्नमेंट ऑफिसेस में दिखाई देते थे। इस टेक्नोलॉजी के जरिए टेलिफोन पर टेकस्ट मैसेज भेजा जा सक्ता था।


8) वीसीआर
पहले लोगों के पास मूवी देखने का एक मात्र जरिया VCR हुआ करता था; पर आज इसकी जगह अब DVD, CD ने ले ली। आज भी लोग सीडी का काफी कम यूज करते हैं क्युकि कम्प्यूटर, लैपटॉप और स्मार्टफोन पर फिल्में देखी जा सकती है।