Friday, March 15, 2019

दुनिया की एक मात्र तैरती झील : लोकतक झील

लोकतक झील उत्तर-पूर्व भारत की सबसे बड़ी साफ़ पानी की झील है। इसे दुनिया के एकमात्र तैरती हुई झील भी कहा जाता है क्योंकि यहां छोटे-छोटे भूखंड या द्वीप पानी में तैरते हैं। इन द्वीप को फुमदी के नाम से जाना जाता है। ये फुमदी मिट्टी, पेड़-पौधों और जैविक पदार्थों से मिलकर बनते है और धरती की तरह ही कठोर होते हैं। इन्होंने झील के काफी बड़े भाग को कवर किया हुआ है।

फुमदियों से बनी इस झील को देखना अपने आप में एक एक अनोखा अहसास है जो की पुरे विश्व में केवल यहीं अनुभव किया जा सकता है। इतने से भी मन न भरे, तो फुमदी पर ही बने टूरिस्ट कॉटेज में रह भी सकते हैं।

फुमदी का सबसे बड़ा भाग झील के दक्षिण पूर्व भाग में स्थित है, जो 40 स्क्वायर किलोमीटर तक फैला हुआ है। इस सबसे बड़े भाग में दुनिया के सबसे लंबा और एकमात्र तैरता हुआ पार्क भी है; जिसका नाम किबुल लामिआयो नेशनल पार्क है। इस पार्क में दुर्लभ प्रजाति के हिरण भी पाए जाते हैं। इन्हें मणिपुरी भाषा में संगई कहा जाता है।
 

लोकतक झील का मणिपुर के आर्थिक विकास में अहम योगदान है। इस झील के पानी का उपयोग जलविद्युत परियोजनाओं, सिंचाई और पीने के पानी के लिए किया जाता है। इसके अलावा इस झील के आसपास रहने वाले मछुआरों की जीविका भी यही है। स्थानीय भाषा में इन मछुआरों को ''फुमशोंग्स'' कहा जाता है। फुमदी का उपयोग स्थानीय लोग मछली पकड़ने, अपनी झोपड़ी बनाने और अन्य उपयोग के लिए करते हैं। इन मछुआरों की मछली पालन की कला भी अनोखी है। ये गांव वाले मछली पालने के लिए फुमदी का नकली गोल घेरा बनाते हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि करीबन 1 लाख लोगों से ज्यादा इस झील पर आश्रित हैं।

लोकतक झील जैव विविधता से भी परिपूर्ण है। इसमें पानी के पौधों की तकरीबन 233 प्रजातियां, पक्षियों की 100 से अधिक प्रजातियां रहती हैं। इसके अलावा जानवरों के 425 प्रजातियां भी हैं, जिनमें भारतीय पाइथन, सांभर और दुर्लभ सूची में दर्ज भौंकने वाले हिरण भी हैं।

Tuesday, March 12, 2019

WHO की डिप्टी जनरल बनने वाली पहली भारतीय सौम्या स्वामीनाथन

डॉ. सौम्या स्वामीनाथन प्रसिद्ध चिकित्सा शोधकर्ता और स्वास्थ्य नीति विशेषज्ञ हैं। वो पहली भारतीय हैं जिनको विश्व स्वास्थ्य संगठन के डिप्टी जनरल के तौर पर नियुक्त किया गया है। सौम्या जो एचआईवी और तपेदिक की प्रमुख शोधकर्ता हैं।

वो भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक के रूप में कार्यरत थीं। सौम्या स्वास्थ्य मंत्रालय में स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग की सचिव भी हैं। उनकी नियुक्ति की घोषणा 3 अक्टूबर को डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेडरोस अदोनोम गिबरेयसस ने की थी। इस नवीनतम नियुक्ति के साथ सौम्या को डब्ल्यूएचओ की दूसरी सबसे बड़ी स्थिति रखने वाला पहला भारतीय बना देता है।

सौम्या, एमएस स्वामीनाथन की बेटी हैं। एमएस स्वामीनाथन को भारत की हरित क्रांति का जनक माना जाता है। सौम्या की मां मीना स्वामीनाथन एक प्रसिद्ध शिक्षाविद हैं। 

डॉ. सौम्या स्वामीनाथन प्रसिद्ध चिकित्सा शोधकर्ता और स्वास्थ्य नीति विशेषज्ञ हैं। वो पहली भारतीय हैं जिनको विश्व स्वास्थ्य संगठन के डिप्टी जनरल के तौर पर नियुक्त किया गया है। सौम्या जो एचआईवी और तपेदिक की प्रमुख शोधकर्ता हैं। वो भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक के रूप में कार्यरत थीं। सौम्या स्वास्थ्य मंत्रालय में स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग की सचिव भी हैं। उनकी नियुक्ति की घोषणा 3 अक्टूबर को डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेडरोस अदोनोम गिबरेयसस ने की थी। इस नवीनतम नियुक्ति के साथ सौम्या को डब्ल्यूएचओ की दूसरी सबसे बड़ी स्थिति रखने वाला पहला भारतीय बना देता है।

फर्स्टपोस्ट के अनुसार, डब्ल्यूएचओ ने अपनी घोषणा में कहा, 'सौम्या तपेदिक और एचआईवी पर एक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त शोधकर्ता हैं। उन्हें क्लीनिकल केयर और शोध में 30 वर्षों का है। वो अपने करियर में प्रभावी कार्यक्रमों में अनुसंधान का अनुवाद करने का काम कर चुकी है।' पुणे में सशस्त्र सेना मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस पूरा करने के बाद, सौम्या ने अपने एमडी को ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से पूरा किया। पेशे के तौर पर वो एक बाल रोग विशेषज्ञ हैं। उन्होंने 250 से अधिक प्रकाशनों और किताबों के अध्याय प्रकाशित किए हैं।

सौम्या ने डब्लूएचओ विशेष कार्यक्रम में 2009 और 2011 के बीच यूनिसेफ, यूएनडीपी, विश्व बैंक के समन्वयक के रूप में कार्य किया। अब तक उन्हें दवा के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए नौ पुरस्कार दिए जा चुके हैं। सौम्या, एमएस स्वामीनाथन की बेटी हैं। एमएस स्वामीनाथन को भारत की हरित क्रांति का जनक माना जाता है। सौम्या की मां मीना स्वामीनाथन एक प्रसिद्ध शिक्षाविद हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अन्य सदस्यों में स्वास्थ्य के पूर्व मंत्री, दुनिया के अग्रणी चिकित्सकों, शोधकर्ताओं और वैज्ञानिक शामिल हैं। लाइवमिंट के मुताबिक, डब्ल्यूएचओ के अन्य सदस्यों की नियुक्ति के बाद डॉ टेडरोस ने कहा, टीम डब्लूएचओ 14 देशों का प्रतिनिधित्व करती है और इसमें 60 प्रतिशत से अधिक महिलाएं हैं। ये हमारी इस गहरी धारणा को दर्शाती है कि हमें दुनिया के लिए अपने मिशन को पूरा करने के लिए शीर्ष प्रतिभा चाहिए होती है। इसमें लिंग समानता और भौगोलिक दृष्टि के विविध दृष्टिकोणों की जरूरत होती है।

सौम्या, घाना से डॉ. अनारफी असमौआ बाह की जगह लेंगी, जिन्होंने अब डब्ल्यूएचओ को डायरेक्टर-जनरल के वरिष्ठ नीति सलाहकार के रूप में ज्वॉइन किया है। उन्होंने संचरितअमेरिका में लाखों की नौकरी छोड़कर चेन्नई में करोड़ों का स्टार्टअप खोलने वाली अश्विनी अशोकन रोग कार्यक्रम के सहायक निदेशक-जनरल और एचआईवी-एड्स, टीबी और मलेरिया कार्यक्रम के रूप में काम किया था।

Saturday, March 9, 2019

10 Year Challenge : Game या खतरा? क्या है इसके पीछे Facebook क्या Plan?

10yearchallenge नाम के हैश टैग से प्रशिद्ध हुआ यह Trend असल मे क्या है इसके बारे में Detail में बात करते है। इस Challenge में आपको आपकी 10 साल पुरानी Photo को इस साल की Latest Photo के साथ Upload करना होता है। यह दिखाने के लिए की 10 साल में आपके चेहरे पे कितना Change आया है।

10 Year Challenge बिल्कुल एक Game की तरह ही है। Social Media पे लोग इस Challenge Accept कर अपनी 10 साल पुरानी और नई Photos Upload कर रहे है। Facebook, Twitter, Instagram इन सभी Social Media पे Millions से भी ज्यादा Photos Upload हो चुकी है। 
 

Social Media पे लोग इस गेम को काफी Enjoy कर रहे है। पर इसके पीछे Facebook या अन्य Social Media का मकशद क्या है। इसके बारे में लोग नही जानते है। क्यों Social Media पे यह Trend अचानक से वायरल हुआ? और क्यों यह Trend वायरल हुआ? इसके बारे में भी आपको जानना आवश्यक है। चलिए यह जानते है, की यह Trend क्यों Social Media पे Viral हुआ।

एक अहवाल के मुताबिक 10 Year Challenge को Artificial Intelligence System के लिए आपके Data को उपयोग में लेने की बात कही गई है। Face Recognize System को मजबूत बनाने के लिए, इस हैश टैग का उपयोग किया जा सकता है।

तो इस बात को लेके कई लोग अपने तर्क सामने रख रहे है, की Facebook के पास पहले से ही यह Photos थी, तो Challenge के बिना भी वह Data ले सकते थे। इसके जवाब में अहवाल में कहा गया है कि, 10 Year पहले Upload की गई Photo उसी समय की है, की उससे पहले की, यह बात Facebook नही जान सकता था। किन्तु लोग सामने से 10 Year पहले की Photos को सामने से Upload कर रहे है। इस से 10 Year में व्यक्ति के चहरे पे कितना परिवर्तन हुआ, यह जान के Artificial Intelligence को मजबूत कर सकते है।

हालांकि यह जानकारी पुख्ता नही है। Facebook, Twitter, Instagram पे यह Trend किस मकसद से Viral हुआ यह तो हमे Social Media ही बता सकते है। पर ऊपर की गई बातों को भी जाया नही कर सकते है। यह भी सच हो सकता है, की Artificial Intelligence को मजबूत करने के लिए भी यह Trend चलाया जा रहा हो। कुछ भी हो लेकिन यह 10 Year Challenge को लोग बहुत ही Enjoy कर रहे है।

Friday, February 15, 2019

करंट अफेयर्स 10 - 15 फरवरी 2019


1.    वस्त्र मंत्रालय द्वारा हाल ही में किस स्थान पर वस्त्र उद्योग क्षेत्र के सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यमों के लिए ‘आउटरीच’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया?       नई दिल्ली 

2.    प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में उत्तर भारत में किस स्थान पर ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज तथा 510 बिस्तर वाला अस्पताल देश को समर्पित किया?         फरीदाबाद 

3.    निम्नलिखित में किस संस्थान द्वारा विश्व सतत् विकास शिखर सम्मेलन-2019 का आयोजन नई दिल्ली में किया जा रहा है?        TERI 

4.    निम्नलिखित में से किसे हाल ही में अफ़्रीकी संघ का अध्यक्ष बनाया गया है?         अब्देल फतह अल-सीसी 

5.    हाल ही में किस राज्यसभा द्वारा पारित किये गये संशोधन विधेयकों के अनुसार अब पंचायतीराज और स्थानीय निकायों के चुनाव लड़ने के लिए शैक्षणिक योग्यता की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है?         राजस्थान 

6.    हॉन्ग-कॉन्ग यूनिवर्सिटी के अध्ययन के मुताबिक, रात में कितने घंटे से कम नींद लेने के कारण डीएनए को नुकसान होने के साथ-साथ शरीर में डीएनए रिपेयर की क्षमता भी प्रभावित हो सकती है?        सात घंटे 

7.    ग्लोबल इकोलॉजी ऐंड बायोजियोग्राफी में छपे अध्ययन के मुताबिक, पृथ्वी पर कितने प्रतिशत कशेरुकी जीवों (स्तनधारी, उभयचर और सरीसृप) की मौत के लिए इंसान सीधे तौर पर ज़िम्मेदार हैं?         28 प्रतिशत 

8.    नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट के मुताबिक, किस मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान संसद की पूर्वानुमति के बिना 1,156.80 करोड़ रुपये अधिक खर्च किए हैं?         वित्त मंत्रालय 

9.    वैज्ञानिकों के अनुसार, जलवायु परिवर्तन और समुद्री जलस्तर बढ़ने के कारण किस वर्ष तक बंगाल टाइगर का आखिरी तटीय गढ़ 'सुंदरवन' नष्ट हो सकता है?        वर्ष 2070 

10.    भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने विभिन्न बैंकिंग नियमों का उल्लंघन करने पर इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, एचडीएफसी बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक समेत कितने बैंकों पर जुर्माना लगाया है?         सात 

11.    एनआरआई (अनिवासी भारतीय) विवाह पंजीकरण विधेयक, 2019 के अनुसार किसी अनिवासी भारतीय को कितने दिन के भीतर शादी का पंजीकरण कराना अनिवार्य है?         30 दिन 

12.    केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने हाल ही में किस देश के साथ भारत के बाह्य अंतरिक्ष क्षेत्र के शांतिपूर्ण उपयोग के लिए सहमति पत्र को मंजूरी प्रदान की है?         फ़िनलैंड 

13.    निम्नलिखित में से किस स्थान पर दक्षिण-पूर्व एशिया का पहला प्रोटोन कैंसर ट्रीटमेंट सेंटर आरंभ किया गया है?         चेन्नई 

14.    दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल (एलजी) मामले में सुप्रीम कोर्ट के किस जस्टिस ने आईएएस अधिकारियों की पोस्टिंग और ट्रांसफर का अधिकार एलजी को दिए जाने की राय व्यक्त की है?        जस्टिस ए.के. सीकरी 

15.    हाल ही में किस राज्य सरकार ने गुर्जरों को 5% आरक्षण दिए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की है?        राजस्थान 

16.    नासा के मुताबिक, मंगल ग्रह पर उसका ऑपरच्यूनिटी रोवर मिशन कितने वर्ष बाद निष्क्रिय हो गया है?        15 वर्ष 

17.    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 12 फरवरी 2019 को संसद के केंद्रीय हॉल में भारत के किस पूर्व प्रधानमंत्री के चित्र का अनावरण किया?         अटल बिहारी वाजपेयी 

18.    नासा के एक ताजा अध्ययन में आम अवधारणा के विपरीत यह पाया गया है कि भारत और कौन सा देश पेड़ लगाने के मामले में विश्व में सबसे आगे हैं?         चीन 

19.     प्रसिद्ध भारतीय इतिहासकार संजय सुब्रमण्यम को हाल ही में किस देश का प्रतिष्ठित पुरस्कार डैन डेविड पुरस्कार प्रदान किया गया? इजराइल 

20.    केंद्र सरकार ने रेलवे सेवा के किस सेवानिवृत्त अधिकारी को दोबारा सार्वजनिक विमानन कंपनी एअर इंडिया का चेयरमैन व एमडी (सीएमडी) नियुक्त किया है? अश्वनी लोहानी

Friday, February 8, 2019

करंट अफेयर्स 6 - 8 फरवरी 2019

  1. इसरो द्वारा हाल ही में लॉन्च किये गये 40वें संचार उपग्रह का क्या नाम है? जीसैट-31 
  2. हाल ही में किस राज्य ने डॉल्फिन की एक प्रजाति को राज्य का राजकीय जलीय जीव घोषित किया है? पंजाब 
  3. वैज्ञानिकों द्वारा हाल ही में जारी जानकारी के अनुसार चुंबकीय उत्तरी ध्रुव कनाडा से किस देश की ओर खिसक रहा है? रूस 
  4. हाल ही में किस सरकारी मिशन का लाभ समाज के सबसे कमजोर वर्ग तक पहुंचाने के लिए ‘शहरी समृद्धि उत्सव’ का शुभारंभ किया गया है? दीनदयाल अंत्योदय मिशन 
  5. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) द्वारा जयपुर, कोटा तथा अलवर में 11-12 फरवरी के दौरान किस नाम से आपदा राहत अभ्यास का प्रदर्शन किया जायेगा ? राहत 
  6. किस राज्य सरकार ने 1984 में कानपुर में हुए सिख विरोधी दंगों को लेकर विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है? उत्तर प्रदेश सरकार 
  7. रूस के अनुसार वर्ष 2021 तक सतह से लक्ष्य भेदने में सक्षम कितने नए मिसाइल सिस्टम लॉन्च करने की योजना है? दो 
  8. हाल ही में किस राज्य सरकार ने 'एस्मा' कानून लागू करते हुए अपने कर्मचारियों द्वारा हड़ताल पर 6 महीने तक रोक लगा दी है? उत्तर प्रदेश सरकार 
  9. नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत कुल कितने सीवरेज आधारभूत ढांचे संबंधी परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है? 100 
  10. पेट्रोलियम सचिव एम.एम. कुट्टी के अनुसार 2.25 करोड़ टन खपत के साथ कौन सा देश दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा एलपीजी उपभोक्ता देश बन गया है? भारत 
  11. हाल ही में किस राज्य सरकार द्वारा पेश बजट में प्रत्येक दुल्हन को 1 तोला सोना दिए जाने की घोषणा की गई है? असम 
  12. केंद्र सरकार ने पोंजी स्कीमों पर पूरी तरह से रोक लगाने के उद्देश्य से हाल ही में कौन से विधेयक को मंजूरी दी है? अनियंत्रित जमा योजना निरोधक विधेयक-2018 
  13. सिनेमेटोग्राफ संशोधन विधेयक, 2019 के अनुसार पायरेसी और कॉपीराइट मामलों का उल्लंघन करने पर कितने साल की सज़ा हो सकती है? तीन साल 
  14. निम्नलिखित में से किस स्थान पर हाल ही में एशिया एलपीजी सम्मेलन आरंभ किया गया है? नई दिल्ली 
  15. हाल ही में किस राज्य ने कालिया छात्रवृत्ति योजना-2019 शुरू की है? ओडिशा 
  16. हाल ही में किस राजनेता ने बाढ़ में लोगों को बचाने वाले केरल के मछुआरों को शांति का नोबेल पुरस्कार दिए जाने की सिफारिश की है? शशि थरूर 
  17. गवर्नर शक्तिकांत दास के कार्यकाल की पहली मौद्रिक नीति समीक्षा में आरबीआई ने ब्याज दरों में कितना प्रतिशत की कटौती की है? 0.25% 
  18. निम्नलिखित में से किस टीम ने वर्ष 2019 का रणजी ट्रॉफी खिताब जीता है? विदर्भ 
  19. हाल ही में किस राज्य सरकार ने महिलाओं का वर्जिनिटी टेस्ट कराने को अपराध घोषित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है? महाराष्ट्र सरकार 
  20. निम्नलिखित में से किसे हाल ही में नागरिक उड्डयन सचिव नियुक्त किया गया है? प्रदीप सिंह खरोला 

Thursday, February 7, 2019

आधुनिक भूगोल का अनावरण

पंद्रहवीं शताब्दी के अंत तथा सोलहवीं शती के प्रारंभ में मैगेलैन तथा ड्रेक ने अटलांटिक तथा प्रशांत महासागरों के स्थलों का पता लगाया तथा संसार का परिभ्रमण किया। स्पेन, पुर्तगाल, हॉलैंड के खोजी यात्रियों (explorers) ने संसार के नए स्थलों को खोजा। नवीन संसार की सीमा निश्चित की गई। 16वीं और 17वीं शताब्दियों में विस्तार, स्थिति, पर्वतो तथा नदी प्रणालियों के ज्ञान की सूची बढ़ती गई जिनका श्रृंखलाबद्ध रूप मानचित्रकारों ने दिया। इस क्षेत्र में मर्केटर का नाम विशेष उल्लेखनीय है। मर्केटर प्रक्षेप तथा अन्य प्रक्षेपों के विकास के साथ भूगोल, नौवाहन और मानचित्र विज्ञान में अभूतपूर्व सुधार हुआ|

बर्नार्ड वारेन या (वेरेनियस) ने 1630 ई॰ में ऐम्सटरडैम में 'ज्योग्रफिया जेनरलिस' (Geographia Generalis) ग्रंथ लिखा 28 वर्ष की अवस्था में इस जर्मन डाक्टर लेखक की मृत्यु सन् 1650 में हुई। इस ग्रंथ में संसार के मनुष्यों के श्रृखंलाबद्ध दिगंतर का सर्वप्रथम विश्लेषण किया गया।
18वीं शताब्दी में भूगोल के सिद्धांतों का विकास हुआ। इस शताब्दी के भूगोलवेत्ताओं में इमानुएल कांट की धारणा सराहनीय है। कांट ने भूगोल के पाँच खंड किए :
·         (1) गणितीय भूगोल - सौर परिवार में पृथ्वी की स्थिति तथा इसका रूप, अकार, गति का वर्णन;
·         (2) नैतिक भूगोल -- मानवजाति के आवासीय क्षेत्र पर निर्धारित रीति रिवाज तथा लक्षण का वर्णन;
·         (3) राजनीतिक भूगोल -- संगठित शासनानुसार विभाजन;
·         (4) वाणिज्य भूगोल (Mercantile Geography)-- देश के बचे हुए उपज के व्यापार का भूगोल; तथा
·         (5) धार्मिक भूगोल (Theological Geography) धर्मो के वितरण का भूगोल।
कांट के अनुसार भौतिक भूगोल के दो खंड हैं-
·         (क) सामान्य पृथ्वी, जलवायु और स्थल,

·         (ख) विशिष्ट मानवजाति, जंतु, वनस्पति तथा खनिज।

करंट अफेयर्स 1 - 5 फरवरी 2019


1.     अमेरिकी प्रतिबंधों से बचने के लिए यूरोपियन देशों ने ईरान के साथ व्यापार हेतु किस नये पेमेंट चैनल के गठन की घोषणा की है? INSTEX 

2.     हाल ही में नासा की हबल दूरबीन द्वारा खोजी गई बौनी (Dwarf) आकाशगंगा को क्या नाम दिया गया है? बेदिन-1 

3.     अमेरिकी डेमोक्रेटिक पार्टी की किस हिन्दू महिला उम्मीदवार ने हाल ही में वर्ष 2020 के राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की घोषणा की है? तुलसी गेबार्ड 

4.     किस राज्य में चल रहे एंडोसल्फान आंदोलन को हाल ही में समाप्त करने की घोषणा कर दी गई है? केरल

5.     राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 06 फरवरी 2019 को देश के जाने माने कितने कलाकारों को वर्ष 2017 के संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार प्रदान करेंगे? 42 

6.     सरकारी आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2018-19 की अप्रैल-दिसंबर अवधि के दौरान देश का राजकोषीय घाटा कितने लाख करोड़ रुपये रहा जो बजट में निर्धारित लक्ष्य का 112.4% है? 7.01 लाख करोड़ रुपये 

7.      केंद्र सरकार ने नियमों में बदलाव कर महिलाओं को खदानों में ज़मीन के नीचे सुबह 6 बजे से शाम कितने बजे तक नौकरी करने की अनुमति दी है? 7 बजे तक 

8.     मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के अनुसार, 'वचन-पत्र' के वादों पर अमल करते हुए उन्होंने राज्य सरकार द्वारा पोषित उद्योगों में कितने प्रतिशत रोज़गार स्थानीय लोगों को देना अनिवार्य कर दिया है? 70% 

9.     कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने राजनीतिक, आर्थिक व मानवीय संकट से ग्रस्त वेनेज़ुएला को कितने करोड़ रुपये की मदद का घोषणा किया है? 286 करोड़ रुपये 

10.    पूरी दुनिया में किस दिन विश्व आर्द्रभूमि दिवस मनाया जाता है? 02 फरवरी 


Thursday, January 31, 2019

नमक सत्याग्रह स्मारक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी 2019 को गुजरात के सूरत और दांडी का दौरा किया| यहां उन्होंने सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्तार परियोजना और एक अस्पताल की आधाशिला रखी| इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने दांडी में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक राष्ट्र को समर्पित किया|
नमक सत्याग्रह स्मारक


•    भारत की स्वतंत्रता के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान दांडी में 110 करोड़ रुपये के खर्च से 15 एकड़ में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का निर्माण किया गया है|

•    गांधीजी की पुण्यतिथि के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी को इसका उद्घाटन किया| अब यह स्मारक जनता के लिए खोल दिया गया है|

•    यहां 14 नमक बनाने वाले पेन रखे गये हैं| साथ ही खारा पानी भी उपलब्ध कराया गया है| पर्यटक जब खारा पानी पेन में डालेंगे, तब पेन के अंदर लगी हुई मशीन पानी का वाष्पीकरण कर देगी और पेन में नमक बन जाएगा|

•    इसके अतिरिक्त 41 सोलर वृक्ष प्रतिदिन 144 किलोवाट बिजली उत्पन्न करेंगे| इनका इस्तेमाल स्मारक में बिजली की आपूर्ति के लिए किया जाएगा|

•    इसमें उन 80 पदयात्रियों की प्रतिमाएं हैं जिन्होंने दांडी मार्च में गांधी जी का साथ दिया था|

•    नमक सत्याग्रह स्मारक में 18 फीट ऊंची गांधीजी की प्रतिमा बनाई गई है|

•    यहां खारे पानी का कृत्रिम तालाब बनाया गया है जिसमें पर्यटकों को यात्रा के बारे में समझाया जायेगा|

•    इसके अलावा यहाँ उन 24 स्थलों के स्मृतिपथ भी बनाए गये हैं जहां गांधीजी गये थे|


Tuesday, January 29, 2019

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या होता है?

हम आपको अपने इस पोस्ट में साधारण शब्दों में बताने जा रहे हैं बात करने वाले हैं क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) के बारे में। कि क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) क्या होता है? यह कैसे काम करता है? और कौन लोग इसे इस्तेमाल करते हैं? 
दोस्त आपको पता है कि जब हम कंप्यूटर इस्तेमाल करते हैं तो उसके कुछ रिसोर्सेस(Resources) का भी इस्तेमाल करते हैं। जैसे हार्ड डिस्क(Hard disk) हो गया या नेटवर्क हो गया, इन सभी चीजों का हम सब इस्तेमाल करते हैं। क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) में कुछ ऐसा होता है की एक कंप्यूटर(Computer) एक जगह होता है तो वह दूसरे जगह से डाटा(Data) ले सकता है। मतलब की उसके डाटा सेंटर(Data Center) दूसरे जगह फैले हो सकते हैं। हो सकता है कि उसका डाटा सेंटर(Data Center) एक सिटी में हूं या फिर दूसरे देश में हो। तो वह रिसोर्सेस शेयर करते हैं। जैसे नेटवर्क(Network) हो गया या फिर स्टोरेज(Storage) या कैपेसिटी(Capacity) के लिए जो डाटा सेंटर यूज(Use) होता है वह हो गया।

एक छोटे कंप्यूटर में डाटा स्टोरेज करने के लिए एक हार्ड डिस्क होती है। और किसी बड़े ऑर्गेनाइजेशन या बड़े कंपनी के बड़े-बड़े कंप्यूटर होते हैं, उनके डाटा स्टोर करने के लिए छोटी सी हार्ड डिस्क काम नहीं करती। क्यों की बहुत ज्यादा डाटा होता है, तो ज्यादा डाटा सेव करने के लिए बहुत बड़े-बड़े डाटा सेंटर चाहिए होते हैं। उदाहरण के लिए गूगल या फेसबुक का डाटा सेंटर ले लीजिए। इनके जो डाटा और जो स्टोरेज हैं वह बहुत बड़े होते है। क्योंकि इनके अंदर करोड़ो अरबो लोगों ने अपनी अकाउंट बनाई हुई है, तो इन बड़ी कंपनी के जो डाटा होता है वह बहुत ज्यादा होते हैं। कई कई लाख जीबी में, या उससे भी ज्यादा हो सकता है। तो वह सब एक हार्ड डिस्क में तो सेव नहीं हो सकता है। उसके लिए बहुत सारी हार्ड डिस्क चाहिए होती हैं। साधारण शब्दों में बोले तो इन्हे स्टोर करने के लिए एक डाटा सेंटर चाहिए होता है।

डाटा सेंटर में अलग-अलग यूनिट होती है, अलग अलग यूनिट से अलग अलग हार्ड डिस्क होती है। उनमें अलग अलग चेंबर होते हैं। आप कह सकते हैं कि एक छोटे शहर के बराबर या उस से भी बड़े तो बड़े कंपनियों के डाटा सेंटर होते हैं।

दोस्तों यही केस नेटवर्क के स्टोरेज में भी होता है कि उनके जो नेटवर्क होते हैं जो इंटरनेट प्रोवाइड करते है उनके जो सेंटर होते हैं वह भी बहुत बड़े बड़े होते हैं। तो मान लीजिये एक ऑर्गेनाइजेशन है जिसकी नीड बहुत ज्यादा है, लेकिन हर ऑर्गेनाइजेशन अपनी खुद की डाटा सेंटर या नेटवर्क नहीं बना सकती। अगर वह ऐसा करेगी तो उसे प्रॉफिट कम होगा और लागत ज्यादा लगेगी। तो इस केस में वह ऑर्गेनाइजेशन या बड़ी कंपनी किसी क्लाउड कंप्यूटिंग कंपनी से अटैच हो जाती हैं , टाई अप कर लेती है कि आप हमारा डाटा स्टोर कर लो, उसके बदले हम आपको मंथली पैसे देंगे, या जो भी देंगे। तो यह अलग कंपनियां होती हैं जो डाटा के साथ हैंडल करती हैं या नेटवर्क के साथ हैंडल करती हैं। तो दोस्तों इस केस में क्लाउड कंप्यूटिंग सामने आता है।

क्लाउड कंप्यूटिंग को अगर आप साधारण भाषा में बोले तो आप कहीं दूर किसी चीज को सेव करना, वहां से किसी डाटा को शेयर करना या अपने रिसोर्सेस को अलग-अलग जगह बांट देना। सिंपल फॉर्म अगर बोलेंगे तो इसका मतलब यही होता है|

Join Our Telegram Channel For Latest Updates  

मैन बुकर पुरस्कार 2018 : उत्तरी आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स

उत्तरी आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स को 2018 का मैन बुकर प्राइज से सम्मानित किया गया है| उन्हें उनकी किताब 'मिल्कमैन' के लिए यह सम्मान दिया गया है| इस ऐलान के साथ ही एना बर्न्स पहली नॉर्दन आईरिश लेखिका बन गई हैं| बता दें कि उनकी यह तीसरी किताब थी| 


बर्न्स की लिखी 'मिल्कमैन' किताब एक महिला के शादीशुदा शख्स के साथ अफेयर की कहानी है| साथ ही यह महिला एक ऐसे शख्स का सामना कर रही थी, जो यौन उत्पीड़न के लिए पारिवारिक रिश्तों, सामाजिक दबाव और राजनीतिक निष्ठा जैसे हथियारों का इस्तेमाल कर रहा था|

बर्न्स को इस पुरस्कार के साथ 50 हजार पाउंड भी दिए जाएंगे| बर्न्स की किताब को लेकर जजों ने कहा कि मिल्कमैन अद्भुत किताब है| साथ ही उन्होंने कहा कि इस किताब में उस युवती के दर्द का बखूबी अहसास कराया गया है| बुकर पुरस्कार कॉमनवेल्थ या आयरलैंड के नागरिकों की ओर से लिखे गए मौलिक अंग्रेजी उपन्यास के लिए हर साल दिया जाता है| 2008 साल का पुरस्कार भारतीय लेखक अरविंद अडिगा को दिया गया था| गौरतलब है कि अडिगा समेत 5 बार यह पुरस्कार भारतीय मूल के लेखकों को मिला है, जिसमें वी एस नायपॉल, अरुंधति राय, सलमान रश्दी और किरण देसाई आदि शामिल है|

Join Our Telegram Channel For Latest Updates  

Thursday, January 17, 2019

करंट अफेयर्स 15 - 16 january 2019


1.       हाल ही में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार 2016-18 में कितने हाथियों की रेल दुर्घटनाओं में मौत हुई है?
       -        49 

2.      भारत ने किस देश के साथ IMBEX 2018-19 युद्ध अभ्यास का दूसरा संस्करण शुरु किया? 
       -        म्यांमार
3.      हाल ही में किस देश के वैज्ञानिकों ने चंद्रमा पर कपास का बीज अंकुरित करने में सफलता हासिल की है? 
       -        चीन
4.      प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में किस राज्य में झारसुगुड़ा में मल्टी-मोडल लॉजिस्टिक्स पार्क (एमएमएलपी) राष्ट्र को समर्पित की है? 
       -        उड़ीसा
5.     जीएसटी परिषद की 32वीं बैठक में लिए गये निर्णय के अनुसार रियल एस्टेट क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए कितने सदस्यों वाले जीओएम का गठन किया गया है? 
       -        सात
6.      किस राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री गेगोंग अपांग ने भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा दे दिया? 
       -        अरुणाचल प्रदेश
7.      अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 15 जनवरी 2019 को निम्न में से किसे अपना नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त कर दिया? 
       -        मनु साहनी
8.     मुंबई के खार जिमखाना क्लब ने ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या की मानद सदस्यता कितने साल के लिए निलंबित कर दी है?
        -        तीन साल 
9.      किस राज्य के डी. गुकेश 15 जनवरी 2019 को विश्व के दूसरे और भारत के सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बन गए? 
       -        तमिलनाडु
10.     टाइम्स हायर एजुकेशन की प्रतिष्ठित ‘इमर्जिंग इकोनॉमीज यूनिवर्सिटी रैंकिंग’ (वर्ष 2019) में भारत के कितने संस्थानों को जगह मिली है? 
       -        49

Monday, January 14, 2019

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ‘फिलिप कोटलर’ पुरस्कार से सम्मानित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 14 जनवरी 2019 को नई दिल्ली में पहली बार फिलिप कोटलर प्रेसिडेंसियल सम्मान सम्मानित किया गया है|
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में बताया गया है कि हर वर्ष राष्ट्रीय नेता को दिए जाने वाले इस सम्मान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बार सम्मानित किया गया है|
यह पुरस्कार तीन आधार बिन्दुओं पर केंद्रित है- जिसमें लोग, लाभ और प्लेनेट शामिल है|
मुख्य तथ्य:
   पुरस्कार के प्रशस्तिपत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का चयन ‘‘देश को उत्कृष्ट नेतृत्व’’ प्रदान करने के लिये किया गया है| इसके अनुसार, अथक ऊर्जा के साथ भारत के लिये उनकी निःस्वार्थ सेवा की वजह से देश ने बेहतरीन आर्थिक, सामाजिक और प्रौद्योगिकीय विकास किया है|
   प्रशस्तिपत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की पहचान अब नवाचार और मूल्यवर्धित विनिर्माण (मेक इन इंडिया) के साथ ही सूचना प्रौद्योगिकी, लेखांकन एवं वित्त जैसे पेशेवर सेवाओं के केन्द्र के रूप में उभरी है|
   प्रशस्तिपत्र पत्र में यह भी कहा गया है कि उनके दूरदर्शी नेतृत्व की वजह से सामाजिक लाभ और वित्तीय समावेशन के लिये विशिष्ट पहचान संख्या, आधार सहित डिजिटल क्रांति (डिजिटल इंडिया) हो सकी|
कौन हैं फिलिप कोटलर?
फिलिप कोटलर नॉर्थवेस्टरन यूनिवर्सिटी, केलॉग स्कूल ऑफ मेनेजमेंट में मार्केटिंग प्रोफेसर हैं| इन्हीं के सम्मान में हर वर्ष यह पुरस्कार देश के सबसे लोकप्रिय नेता को दिया जाता है| वे मार्केटिंग (विपणन) पर 55 से अधिक विपणन पुस्तकों के लेखक है|

बता दें कि पीएम मोदी को इस सम्मान से सम्मानित करने के लिए फिलिप कोटलर की जगह इमोरी यूनिवर्सिटी के जगदीश सेठ को प्रतिनियुक्त किया गया|

Tuesday, January 8, 2019

यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल



यूनेस्को (UNESCO – United Nations Educational Scientific and Cultural Organisation) ने मुम्बई की 'विक्टोरियन गौथिक' व 'आर्ट डेको' वस्तुशिल्प से बनी 19वीं व 20वीं सदी की कलात्मक इमारतों को विश्व विरासत समिति की बहरीन में मनामा में 24 जून से 4 जुलाई, 2018 की सालाना बैठक में ​शामिल करने की घोषणा की। इससे विश्व विरासत सूची में शामिल भारतीय स्थलों की संख्या अब 37 हो गई है। इनमें 29 सांस्कृतिक स्थलों की श्रेणी में हैं, जबकि 7 स्थल प्राकृतिक स्थलों की श्रेणी में हैं और एक मिश्रित स्थल हैं। यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल 37 भारतीय स्थलों में सर्वाधिक 5 महाराष्ट्र के हैं।


युनेस्को विश्व विरासत स्थल किसे कहते है?
युनेस्को विश्व विरासत स्थल ऐसे खास स्थानों (जैसे वन क्षेत्र, पर्वत, झील, मरुस्थल, स्मारक, भवन, या शहर इत्यादि) को कहा जाता है, जो विश्व विरासत स्थल समिति द्वारा चयनित होते हैं; और यही समिति इन स्थलों की देखरेख युनेस्को के तत्वाधान में करती है।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्व के ऐसे स्थलों को चयनित एवं संरक्षित करना होता है जो विश्व संस्कृति की दृष्टि से मानवता के लिए  महत्वपूर्ण हैं। कुछ खास परिस्थितियों में ऐसे स्थलों को इस समिति द्वारा आर्थिक सहायता भी दी जाती है।

नाम – आगरा का लाल किला 
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – आगरा का किला मुगल बादशाह अकबर ने बनवाया था। इस किले का निर्माण हिन्दू व इस्लामिक वास्तु शैलियों को मिलाकर किया गया है। ड्रेगन, पक्षी और अन्य कई जीवित चीजों को इस किले में दर्शाया गया है।

नाम – अजन्ता की गुफाएँ
स्थान – औरंगाबाद (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – अजन्ता की गुफाएँ पाषाट कट स्थापत्य गुफाएँ हैं। यहाँ बौद्ध धर्म से सम्बन्धित चित्रण एवं शिल्पकारी के उत्कृष्ट नमूने मिलते हैं। इसके साथ ही सजीव चित्रण भी मिलते हैं।

नाम – एलोरा की गुफाएँ
स्थान – ओरंगाबाद (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – एलोरा की गुफाएँ भारतीय पाषाण शिल्प स्थापत्य कला का सार है। यहाँ 34 गुफाएँ (12 बौद्ध गुफाएँ, 17 हिन्दू गुफाएँ और 5 जैन गुफाएँ) हैं। यह स्थल अद्वितीय कलात्मक सृजन और तकनीकी उत्कृष्टता का नजारा है।

नाम – ताजमहल
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा पत्र – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – ताजमहल का निर्माण मुगल सम्राट शाहजहाँ ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में करवाया था। ताजमहल मुगल वास्तुकला का उत्कृष्ट नमूना है। इसकी वास्तु शैली फारसी, तुर्की, भारतीय और इस्लामी वास्तुकला के घटकों का अनोखा सम्मिलन है। 

नाम – महाबलीपुरम के स्मारक 
स्थान – महाबलीपुरम (तमिलनाडु) 
घोषणा वर्ष – 1984
महत्वपूर्ण तथ्य – महाबलीपुरम के स्मारकों को मुख्य रूप से चार श्रेणियों में बाँटा जाता है–रथ, मधण्डल, गुफा मन्दिर, संरचनात्मक मन्दिर और रॉक। ये स्मारक प्रागौतिहासिक वास्तु प्रतिभा का एक उदाहरण हैं तथा ये मौलिक परम्पराओं तथा सभ्यताओं का अनूठा मिश्रण है।

नाम – कोणार्क का सूर्य मन्दिर 
स्थान पुरी (ओडिशा)
घोषणा वर्ष – 1984 
महत्वपूर्ण तथ्य – यह मन्दिर मध्यकालीन वास्तु कला का अद्भभुत उदाहरण है। यह मन्दिर सूर्य देव को समर्पित है तथा एक रथ के आकार में बना हुआ है, जिसमें कुल 24 चक्र हैं और 7 घोड़े इस रथ को खींच रहे हैं। 

नाम – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – गोलाघाट (असोम)
घोषणा वर्ष – 1985
महत्वपूर्ण तथ्य – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्वाान एक सींग वाले गैंडे के लिए विशेष रूप से प्रसिद्ध है। यह लगभग 429,93 वर्ग किमी, क्षेत्रफल वाला एक बड़ा उद्वान है। 

नाम – केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – राजस्थान 
घोषणा वर्ष – 1985 
महत्वपूर्ण तथ्य – केवलादेव राष्ट्रीय उद्वान एक संरक्षित पक्षी अभ्यारण्य है, जिसमें हजारों की संख्या मे दुर्लभ और विलुप्त जाति के पक्षी पाए जाते हैं, जैसे-साइबेरिया से आए सारस। यहाँ लगभग 230 प्रजाति के पक्षियों ने अपना घर बनाया हुआ है। 

नाम – मानस राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – असोम
घोषणा वर्ष – 1985 
महत्वपूर्ण तथ्य – मानस राष्ट्रीय उद्वान अपने दुर्लभ और लुप्तप्राय स्थानिक वन्यजीवों के लिए जाना जाता है, जैसे-असोम छत वाले कछुएँ, हेपीड खरगोश, गोल्डन लंगूर और पैगी हॉग। यहाँ एक सींग वाले गैंडे और बारहसिंगा विशेष रूप से पाए जाते हैं। 

नाम – गोवा के गिरजाघर एवं कॉन्वेन्ट
स्थान – ओल्ड गोवा 
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – ओल्ड गोवा में एशिया का सबसे बड़ा चर्च है। ओल्ड गोवा में स्थित बासिलिका बोन जीसस चर्च, सेंट फ्रांसिस जेवियर को समर्पित है। बासिलिका बोन जीसस चर्च में सेंट फ्रांसिस जेवियर के अवशेष रखे गए हैं। 

नाम – फतेहपुर सीकरी 
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – फतेहपुर सीकरी हिन्दू और मुस्लिम वास्तुशिल्प के मिश्रण का सबसे अच्छा उदाहरण है। फतेहपुर सीकरी मस्जिद, शेख सलीम चिश्ती की दरगाह, आँख मिचौली, दीवान-ए-खास, बुलन्द दरवाजा आदि फतेहपुर सीकरी के प्रमुख स्मारक हैं। 

नाम – हम्पी अवशेष 
स्थान – हम्पी (कर्नाटक)
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित हम्पी नगर में अब केवल खण्डहरों के रूप् में ही अवशेष हैं। हम्पी का विशाल फैलाव गोल चट्टानों के टीलों में फैला है। घाटियों और टीलों के बीच पाँच सौ से भी अधिक स्मारक चिन्ह्र हैं। 

नाम – खजुराहो के मन्दिर 
स्थान – छतरपुर (मध्य प्रदेश)
घोषणा पत्र – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – खजुराहो के मन्दिर हिन्दू धर्म और जैन धर्म क स्मारकों का एक समूह है। यहाँ के मन्दिर नगारा वस्तु कला से स्थापित किए गए थे, जिनमें ज्यादातर मूर्तियाँ कामुक कला की है अर्थात् अधिकतर मूर्तियाँ नग्न अवस्था में स्थापित हैं। 

नाम – एलिफेन्टा की गुफाएँ 
स्थान मुम्बई (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – इसका ऐतिहासिक नाम घारपुरी है। यहाँ कुल सात गुफाएँ है, जिनमें पहाड़ियों को काटकर मूर्तियाँ व मन्दिर बनाए गए हैं। एलिफेन्टा नाम पुर्तगालियों द्वारा यहाँ पर बने पत्थर के हाथी के कारण दिया गया है।

नाम – सुन्दरबन राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – पश्चिम बंगाल
घोषणा वर्ष 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – सुन्दरबन राष्ट्रीय उद्यान एक बाघ संरक्षित क्षेत्र एवं बायोस्फीयर रिजर्व क्षेत्र है। यह क्षेत्र मैन्ग्रोव के घने जंगलों से घिरा हुआ है और रॉयल बंगाल टाइगर का सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है। 

नाम – पत्तकल के स्मारक
स्थान – बागलकोट (कनार्टक)
घोषणा वर्ष – 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – पत्तदकल क्षेत्र भारतीय स्थापत्य कला की वेसर शैली के आरम्भिक प्रयोगों वाले स्मारक समूहों के लिए प्रसिद्ध है। चालुुक्य वंश के राजाओं ने सातवीं और आठवीं शताब्दी में यहाँ अनेक मन्दिर बनवाए थे। 

नाम – चोल मन्दिर
स्थान – तमिलनाडु
घोषणा वर्ष – 1987–2004
महत्वपूर्ण तथ्य – चोल मन्दिर, चोल शासकों द्वारा दक्षिणी भारत में बनवाए गए थे। ये मन्दिर हैं– बृहदेश्वर मन्दिर (तंजावुर में), गंगईकोंडा चोलीश्वरम का मन्दिर तथा ऐरावतेश्वर मन्दिर (दारासुरम में)।

नाम – नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान एवं फूलों की घाटी
स्थान – उत्तराखण्ड
घोषणा वर्ष – 1988—2005
महत्वपूर्ण तथ्य – नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान को नन्दा देवी राष्ट्रीय अभ्यारण्य के नाम से भी जाना जाता है। फूलों की घाटी, नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान का ही एक भाग है, जो गढ़वाल (उत्तराखण्ड) में स्थित है। 

नाम – मुम्बई की विक्टोरियन गोथिक और आर्ट डेको इमारतें 
स्थान – मुम्बई
घोषणा वर्ष – 2018 
महत्वपूर्ण तथ्य – हाल ही में यूनेस्को द्वारा दक्षिण मुम्बई की दर्जनां विक्टोरिया गोथिक और आर्ट डेको इमारतों को विश्व विरासत का दर्जा प्रदान किया गया। ये इमारतें मुम्बई के वास्तुकला हेरिटेज का अलंकार है। 

नाम – सांची का स्तूप
स्थान – रायसेन (मध्य प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1989
महत्वपूर्ण तथ्य – सांची का मुख्य स्तूप अशोक सम्राट ने बनवाया था। इसक केन्द्र में एक अर्धगोलाकार ईट निर्मित ढाँचा था, जिसमें भगवान बुद्ध के कुछ अवशेष रखे हुए थे। 

नाम – हुमायूँ का मकबरा
स्थान – दिल्ली
घोषणा वर्ष – 1993
महत्वपूर्ण तथ्य – हुमायूँ का मकबरा मुगल वास्तुकला से प्रेरित है। इसमं बलुआ पत्थर का प्रयोग किया गया था। यहाँ मुख्य इमारत मुगल सम्राट हुमायूँ का मकबरा है और इसमें हुमायूँ की कब्र सहित कई अन्य राजसी लोगों की भी कब्रे हैं।

नाम – कुतुबमीनार
स्थान – महरौली (दिल्ली)
घोषणा वर्ष – 1993
महत्वपूर्ण तथ्य – कुतुबमीनार का निर्माण दिल्ली के प्रथम मुस्लिम शासक कुतुबद्दीन ऐबक ने करवाया था। कुतुबमीनार ईट से बनी विश्व की सबसे ऊँची मीनार है। इसमें 379 सीढ़ियाँ हैं। मीनार के चारों ओर बने अहाते में भारतीय कला के कई उत्कृष्ट नमूने हैं। 

नाम – भारतीय पर्वतीय रेलवे
स्थान – दार्जिलिंग (पश्चिम बंगाल)
घोषणा वर्ष – 1999
महत्वपूर्ण तथ्य – भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में कई जगह रेलवे व्यवस्था की गई थी। जिन्हें सामूहिक रूप से भारतीय पर्वतीय रेलवे के नाम से जाना जाता है। इन रेलों में से निम्न चार रेल अभी भी चल रही है–दार्जिलिुंग हिमालयी रेल, नीलगिरी पवर्तीय रेल, कालका—शिमला रेल, माथेरान हिल रेल। 

नाम – बोधगया का महाबोधि मन्दिर
स्थान – बोधगया (बिहार)
घोषणा वर्ष – 2002
महत्वपूर्ण तथ्य – महाबोधि मन्दिर या महाबोधि विहार, बोधगया स्थित प्रसिद्ध बौद्ध विहार है। यह विहार उसी स्थान पर खड़ा है, जहाँ गौतम बुद्ध ने ईसा पूर्व छठी शताब्दी में ज्ञान प्राप्त किया था। 

नाम – भीमबेटका शैलाश्रय
स्थान – रायसेन (मध्य प्रदेश)
महत्वपूर्ण तथ्य – भीमबेटका स्थल आदि मानव द्वारा बनाए गए शैलचित्रों और शैलाश्रयों के लिए प्रसिद्ध है। ऐसा माना जाता है, कि यह स्थान महाभारत के चरित्र भीम से सम्बन्धित है एवं इसी से इसका नाम भीमबेटका पड़ा। 

नाम – चम्पानेर (पावागढ़ पार्क)
स्थान – गुजरात
घोषणा वर्ष – 2004
महत्वपूर्ण तथ्य – चम्पानेर-पावागढ़ पार्क में अनेकों स्मारक स्थित हैं, जिनमें से 38 स्मारकों को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के दायरे में लिया गया है। सवेक्षण में धरोहर का संरक्षण और पर्यटन को बढ़ावा देने का प्रयत्न किया जा रहा है। 

नाम – छत्रपति टर्मिनल
स्थान – मुम्बई (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 2004
महत्वपूर्ण तथ्य – छात्रपति शिवाजी टर्मिनल मुम्बई का एक ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है, जो मध्य रेलवे, भारत का मुख्यालय है। यह भारत के व्यस्त्तम स्टेशनों में से एक है। आँकड़ों के अनुसार, यह स्टेशन ताजमहल के बाद भारत का सर्वाधिक छायाचित्रित स्मारक है। 

नाम – दिल्ली का लाल किला
स्थान – दिल्ली
घोषणा वर्ष – 2007
महत्वपूर्ण तथ्य – दिल्ली के लाल किले का निर्माण मुगल बादशाह शााहजहाँ ने करवाया था। यह किला लाल रेत पत्थर से निर्मित है। इस किले को इसकी दीवारों के लाल रंग के कारण 'लाल किला' कहा जाता है। 

नाम – जयपुर का जंतर-मंतर
स्थान – जयपुर (राजस्थान)
घोषणा वर्ष – 2010
महत्वपूर्ण तथ्य – जयपुर का जंतर-मंतर सवाई जयसिंह द्वारा 1724 से 1734 के बीच निर्मित एक खगोलीय वेधशाला है। इस वेधशाला में 14 प्रमुख यन्त्र हैं, जो समय मापने, ग्रहण की भविष्यवाण करने, किसी तारे की गति एवं स्थति जानने, सौर मण्डल के ग्रहों के दिक्पात जानने आदि में सहायक है। 

नाम – पश्चिमी घाट
स्थान – महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु
घोषणा वर्ष – 2012
महत्वपूर्ण तथ्य – भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत श्रृंखला को पश्चिमी घाट कहते हैं। विश्व में जैविकीय विविधता के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है और इस दृष्टि से विश्व में इसका 8 वाँ स्थान है। 

नाम – राजस्थान के पहाड़ी दुर्ग 
स्थान – राजस्थान 
घोषणा वर्ष – 2013
महत्वपूर्ण तथ्य – राजस्थान के छ: पहाड़ी दुर्ग निम्न हैं–
1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग, 2. कुम्भलगढ़ दुर्ग, 3. रणथम्भोर दुर्ग, 4. गागरौन दुर्ग, 5. आमेर दुर्ग तथा 6. जैसलमेर दुर्ग। ये दुर्ग 8 वीं से 18 वीं सदी तक चले राजपूत शासन का प्रतीक हैं। 

नाम – ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – कुल्लू (हिमाचल प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 2014
महत्वपूर्ण तथ्य – ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क अपनी जैव विविधता के लिए प्रसिद्ध है। इसमें 25 से अधिक प्रकार के वन, 800 प्रकार के पौधे और 180 से अधिक पक्षियों की प्रजातियाँ पाई जाती है। 

नाम – रानी की वाव
स्थान – गुजरात
घोषणा वर्ष – 2014
महत्वपूर्ण तथ्य – यह एक अनूठा वाव है। इसके खम्भे सोलंकी वंश और उनके वास्तुकला के चमत्कार के समय में ले जाते हैं। वाव की दीवारों और स्तम्भों पर अधिकांश नक्काशियाँ राम, वामन, महिषासुरमर्दिनी, कल्कि आदि जैसे अवतारों के विभिन्न रूप भगवान विष्णु को समर्पित हैं। 

नाम – नालन्दा महाविहार (नालन्दा महाविहार)
स्थान – नालन्दा (बिहार)
घोषण वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – नालन्दा विश्वविद्यालय प्राचीन भारत में उच्च शिक्षा का सर्वाधिक महत्वपूर्ण और विख्यात केन्द्र था। गुप्तकालीन सम्राट कुमारगुप्त प्रथम ने 415-454 ई. पू. नालन्दा विश्वविघालय की स्थापना की थी। 

नाम – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – सिक्किम
घोषणा वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – कंचनगंगा राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना वर्ष 1977 में की गई थी। इस उद्यान का कुल क्षेत्रफल लगभग 1784 वर्ग किमी है, जो सिक्किम के कुल क्षेत्रफल का 25.14% है। कस्तूरी मृग, हिम तेन्दुए तथा हिमालय तहर जैसे वन्यजीव उद्यान में रहते है। 

नाम – चण्डीगढ़ कैपिटल कॉम्पलैक्स
स्थान – चण्डीगढ़
घोषणा वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – चण्डीगढ़ कैपिटल कॉम्पलैक्स ली कोर्बुजिए द्वारा डिजायन किया गया एक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है। यह 100 एकड़ जमीन क्षेत्र में फैला हुआ है। इसमें तीन इमारतें, तीन स्मारक और एक झील है। 

नाम – अहमदाबाद सिटी 
स्थान – अहमदाबाद (गुजरात) 
घोषण वर्ष – 2017
महत्वपूर्ण तथ्य – अहमदाबाद शहर की स्थापना सुल्तान अहमद शाह ने 1411 ईस्वी में की थी। इस नगर को भारत का मैनचेस्टर भी कहा जाता है। यह नगर साबरमती नदी के किनारे बसा हुआ है।