Thursday, January 31, 2019

नमक सत्याग्रह स्मारक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी 2019 को गुजरात के सूरत और दांडी का दौरा किया| यहां उन्होंने सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्तार परियोजना और एक अस्पताल की आधाशिला रखी| इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने दांडी में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक राष्ट्र को समर्पित किया|
नमक सत्याग्रह स्मारक


•    भारत की स्वतंत्रता के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान दांडी में 110 करोड़ रुपये के खर्च से 15 एकड़ में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का निर्माण किया गया है|

•    गांधीजी की पुण्यतिथि के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी को इसका उद्घाटन किया| अब यह स्मारक जनता के लिए खोल दिया गया है|

•    यहां 14 नमक बनाने वाले पेन रखे गये हैं| साथ ही खारा पानी भी उपलब्ध कराया गया है| पर्यटक जब खारा पानी पेन में डालेंगे, तब पेन के अंदर लगी हुई मशीन पानी का वाष्पीकरण कर देगी और पेन में नमक बन जाएगा|

•    इसके अतिरिक्त 41 सोलर वृक्ष प्रतिदिन 144 किलोवाट बिजली उत्पन्न करेंगे| इनका इस्तेमाल स्मारक में बिजली की आपूर्ति के लिए किया जाएगा|

•    इसमें उन 80 पदयात्रियों की प्रतिमाएं हैं जिन्होंने दांडी मार्च में गांधी जी का साथ दिया था|

•    नमक सत्याग्रह स्मारक में 18 फीट ऊंची गांधीजी की प्रतिमा बनाई गई है|

•    यहां खारे पानी का कृत्रिम तालाब बनाया गया है जिसमें पर्यटकों को यात्रा के बारे में समझाया जायेगा|

•    इसके अलावा यहाँ उन 24 स्थलों के स्मृतिपथ भी बनाए गये हैं जहां गांधीजी गये थे|


Tuesday, January 29, 2019

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या होता है?

हम आपको अपने इस पोस्ट में साधारण शब्दों में बताने जा रहे हैं बात करने वाले हैं क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) के बारे में। कि क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) क्या होता है? यह कैसे काम करता है? और कौन लोग इसे इस्तेमाल करते हैं? 
दोस्त आपको पता है कि जब हम कंप्यूटर इस्तेमाल करते हैं तो उसके कुछ रिसोर्सेस(Resources) का भी इस्तेमाल करते हैं। जैसे हार्ड डिस्क(Hard disk) हो गया या नेटवर्क हो गया, इन सभी चीजों का हम सब इस्तेमाल करते हैं। क्लाउड कंप्यूटिंग(Cloud Computing) में कुछ ऐसा होता है की एक कंप्यूटर(Computer) एक जगह होता है तो वह दूसरे जगह से डाटा(Data) ले सकता है। मतलब की उसके डाटा सेंटर(Data Center) दूसरे जगह फैले हो सकते हैं। हो सकता है कि उसका डाटा सेंटर(Data Center) एक सिटी में हूं या फिर दूसरे देश में हो। तो वह रिसोर्सेस शेयर करते हैं। जैसे नेटवर्क(Network) हो गया या फिर स्टोरेज(Storage) या कैपेसिटी(Capacity) के लिए जो डाटा सेंटर यूज(Use) होता है वह हो गया।

एक छोटे कंप्यूटर में डाटा स्टोरेज करने के लिए एक हार्ड डिस्क होती है। और किसी बड़े ऑर्गेनाइजेशन या बड़े कंपनी के बड़े-बड़े कंप्यूटर होते हैं, उनके डाटा स्टोर करने के लिए छोटी सी हार्ड डिस्क काम नहीं करती। क्यों की बहुत ज्यादा डाटा होता है, तो ज्यादा डाटा सेव करने के लिए बहुत बड़े-बड़े डाटा सेंटर चाहिए होते हैं। उदाहरण के लिए गूगल या फेसबुक का डाटा सेंटर ले लीजिए। इनके जो डाटा और जो स्टोरेज हैं वह बहुत बड़े होते है। क्योंकि इनके अंदर करोड़ो अरबो लोगों ने अपनी अकाउंट बनाई हुई है, तो इन बड़ी कंपनी के जो डाटा होता है वह बहुत ज्यादा होते हैं। कई कई लाख जीबी में, या उससे भी ज्यादा हो सकता है। तो वह सब एक हार्ड डिस्क में तो सेव नहीं हो सकता है। उसके लिए बहुत सारी हार्ड डिस्क चाहिए होती हैं। साधारण शब्दों में बोले तो इन्हे स्टोर करने के लिए एक डाटा सेंटर चाहिए होता है।

डाटा सेंटर में अलग-अलग यूनिट होती है, अलग अलग यूनिट से अलग अलग हार्ड डिस्क होती है। उनमें अलग अलग चेंबर होते हैं। आप कह सकते हैं कि एक छोटे शहर के बराबर या उस से भी बड़े तो बड़े कंपनियों के डाटा सेंटर होते हैं।

दोस्तों यही केस नेटवर्क के स्टोरेज में भी होता है कि उनके जो नेटवर्क होते हैं जो इंटरनेट प्रोवाइड करते है उनके जो सेंटर होते हैं वह भी बहुत बड़े बड़े होते हैं। तो मान लीजिये एक ऑर्गेनाइजेशन है जिसकी नीड बहुत ज्यादा है, लेकिन हर ऑर्गेनाइजेशन अपनी खुद की डाटा सेंटर या नेटवर्क नहीं बना सकती। अगर वह ऐसा करेगी तो उसे प्रॉफिट कम होगा और लागत ज्यादा लगेगी। तो इस केस में वह ऑर्गेनाइजेशन या बड़ी कंपनी किसी क्लाउड कंप्यूटिंग कंपनी से अटैच हो जाती हैं , टाई अप कर लेती है कि आप हमारा डाटा स्टोर कर लो, उसके बदले हम आपको मंथली पैसे देंगे, या जो भी देंगे। तो यह अलग कंपनियां होती हैं जो डाटा के साथ हैंडल करती हैं या नेटवर्क के साथ हैंडल करती हैं। तो दोस्तों इस केस में क्लाउड कंप्यूटिंग सामने आता है।

क्लाउड कंप्यूटिंग को अगर आप साधारण भाषा में बोले तो आप कहीं दूर किसी चीज को सेव करना, वहां से किसी डाटा को शेयर करना या अपने रिसोर्सेस को अलग-अलग जगह बांट देना। सिंपल फॉर्म अगर बोलेंगे तो इसका मतलब यही होता है|

Join Our Telegram Channel For Latest Updates  

मैन बुकर पुरस्कार 2018 : उत्तरी आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स

उत्तरी आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स को 2018 का मैन बुकर प्राइज से सम्मानित किया गया है| उन्हें उनकी किताब 'मिल्कमैन' के लिए यह सम्मान दिया गया है| इस ऐलान के साथ ही एना बर्न्स पहली नॉर्दन आईरिश लेखिका बन गई हैं| बता दें कि उनकी यह तीसरी किताब थी| 


बर्न्स की लिखी 'मिल्कमैन' किताब एक महिला के शादीशुदा शख्स के साथ अफेयर की कहानी है| साथ ही यह महिला एक ऐसे शख्स का सामना कर रही थी, जो यौन उत्पीड़न के लिए पारिवारिक रिश्तों, सामाजिक दबाव और राजनीतिक निष्ठा जैसे हथियारों का इस्तेमाल कर रहा था|

बर्न्स को इस पुरस्कार के साथ 50 हजार पाउंड भी दिए जाएंगे| बर्न्स की किताब को लेकर जजों ने कहा कि मिल्कमैन अद्भुत किताब है| साथ ही उन्होंने कहा कि इस किताब में उस युवती के दर्द का बखूबी अहसास कराया गया है| बुकर पुरस्कार कॉमनवेल्थ या आयरलैंड के नागरिकों की ओर से लिखे गए मौलिक अंग्रेजी उपन्यास के लिए हर साल दिया जाता है| 2008 साल का पुरस्कार भारतीय लेखक अरविंद अडिगा को दिया गया था| गौरतलब है कि अडिगा समेत 5 बार यह पुरस्कार भारतीय मूल के लेखकों को मिला है, जिसमें वी एस नायपॉल, अरुंधति राय, सलमान रश्दी और किरण देसाई आदि शामिल है|

Join Our Telegram Channel For Latest Updates  

Thursday, January 17, 2019

करंट अफेयर्स 15 - 16 january 2019


1.       हाल ही में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार 2016-18 में कितने हाथियों की रेल दुर्घटनाओं में मौत हुई है?
       -        49 

2.      भारत ने किस देश के साथ IMBEX 2018-19 युद्ध अभ्यास का दूसरा संस्करण शुरु किया? 
       -        म्यांमार
3.      हाल ही में किस देश के वैज्ञानिकों ने चंद्रमा पर कपास का बीज अंकुरित करने में सफलता हासिल की है? 
       -        चीन
4.      प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में किस राज्य में झारसुगुड़ा में मल्टी-मोडल लॉजिस्टिक्स पार्क (एमएमएलपी) राष्ट्र को समर्पित की है? 
       -        उड़ीसा
5.     जीएसटी परिषद की 32वीं बैठक में लिए गये निर्णय के अनुसार रियल एस्टेट क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए कितने सदस्यों वाले जीओएम का गठन किया गया है? 
       -        सात
6.      किस राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री गेगोंग अपांग ने भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा दे दिया? 
       -        अरुणाचल प्रदेश
7.      अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 15 जनवरी 2019 को निम्न में से किसे अपना नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त कर दिया? 
       -        मनु साहनी
8.     मुंबई के खार जिमखाना क्लब ने ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या की मानद सदस्यता कितने साल के लिए निलंबित कर दी है?
        -        तीन साल 
9.      किस राज्य के डी. गुकेश 15 जनवरी 2019 को विश्व के दूसरे और भारत के सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बन गए? 
       -        तमिलनाडु
10.     टाइम्स हायर एजुकेशन की प्रतिष्ठित ‘इमर्जिंग इकोनॉमीज यूनिवर्सिटी रैंकिंग’ (वर्ष 2019) में भारत के कितने संस्थानों को जगह मिली है? 
       -        49

Monday, January 14, 2019

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ‘फिलिप कोटलर’ पुरस्कार से सम्मानित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 14 जनवरी 2019 को नई दिल्ली में पहली बार फिलिप कोटलर प्रेसिडेंसियल सम्मान सम्मानित किया गया है|
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में बताया गया है कि हर वर्ष राष्ट्रीय नेता को दिए जाने वाले इस सम्मान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बार सम्मानित किया गया है|
यह पुरस्कार तीन आधार बिन्दुओं पर केंद्रित है- जिसमें लोग, लाभ और प्लेनेट शामिल है|
मुख्य तथ्य:
   पुरस्कार के प्रशस्तिपत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का चयन ‘‘देश को उत्कृष्ट नेतृत्व’’ प्रदान करने के लिये किया गया है| इसके अनुसार, अथक ऊर्जा के साथ भारत के लिये उनकी निःस्वार्थ सेवा की वजह से देश ने बेहतरीन आर्थिक, सामाजिक और प्रौद्योगिकीय विकास किया है|
   प्रशस्तिपत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की पहचान अब नवाचार और मूल्यवर्धित विनिर्माण (मेक इन इंडिया) के साथ ही सूचना प्रौद्योगिकी, लेखांकन एवं वित्त जैसे पेशेवर सेवाओं के केन्द्र के रूप में उभरी है|
   प्रशस्तिपत्र पत्र में यह भी कहा गया है कि उनके दूरदर्शी नेतृत्व की वजह से सामाजिक लाभ और वित्तीय समावेशन के लिये विशिष्ट पहचान संख्या, आधार सहित डिजिटल क्रांति (डिजिटल इंडिया) हो सकी|
कौन हैं फिलिप कोटलर?
फिलिप कोटलर नॉर्थवेस्टरन यूनिवर्सिटी, केलॉग स्कूल ऑफ मेनेजमेंट में मार्केटिंग प्रोफेसर हैं| इन्हीं के सम्मान में हर वर्ष यह पुरस्कार देश के सबसे लोकप्रिय नेता को दिया जाता है| वे मार्केटिंग (विपणन) पर 55 से अधिक विपणन पुस्तकों के लेखक है|

बता दें कि पीएम मोदी को इस सम्मान से सम्मानित करने के लिए फिलिप कोटलर की जगह इमोरी यूनिवर्सिटी के जगदीश सेठ को प्रतिनियुक्त किया गया|

Tuesday, January 8, 2019

यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल



यूनेस्को (UNESCO – United Nations Educational Scientific and Cultural Organisation) ने मुम्बई की 'विक्टोरियन गौथिक' व 'आर्ट डेको' वस्तुशिल्प से बनी 19वीं व 20वीं सदी की कलात्मक इमारतों को विश्व विरासत समिति की बहरीन में मनामा में 24 जून से 4 जुलाई, 2018 की सालाना बैठक में ​शामिल करने की घोषणा की। इससे विश्व विरासत सूची में शामिल भारतीय स्थलों की संख्या अब 37 हो गई है। इनमें 29 सांस्कृतिक स्थलों की श्रेणी में हैं, जबकि 7 स्थल प्राकृतिक स्थलों की श्रेणी में हैं और एक मिश्रित स्थल हैं। यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल 37 भारतीय स्थलों में सर्वाधिक 5 महाराष्ट्र के हैं।


युनेस्को विश्व विरासत स्थल किसे कहते है?
युनेस्को विश्व विरासत स्थल ऐसे खास स्थानों (जैसे वन क्षेत्र, पर्वत, झील, मरुस्थल, स्मारक, भवन, या शहर इत्यादि) को कहा जाता है, जो विश्व विरासत स्थल समिति द्वारा चयनित होते हैं; और यही समिति इन स्थलों की देखरेख युनेस्को के तत्वाधान में करती है।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्व के ऐसे स्थलों को चयनित एवं संरक्षित करना होता है जो विश्व संस्कृति की दृष्टि से मानवता के लिए  महत्वपूर्ण हैं। कुछ खास परिस्थितियों में ऐसे स्थलों को इस समिति द्वारा आर्थिक सहायता भी दी जाती है।

नाम – आगरा का लाल किला 
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – आगरा का किला मुगल बादशाह अकबर ने बनवाया था। इस किले का निर्माण हिन्दू व इस्लामिक वास्तु शैलियों को मिलाकर किया गया है। ड्रेगन, पक्षी और अन्य कई जीवित चीजों को इस किले में दर्शाया गया है।

नाम – अजन्ता की गुफाएँ
स्थान – औरंगाबाद (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – अजन्ता की गुफाएँ पाषाट कट स्थापत्य गुफाएँ हैं। यहाँ बौद्ध धर्म से सम्बन्धित चित्रण एवं शिल्पकारी के उत्कृष्ट नमूने मिलते हैं। इसके साथ ही सजीव चित्रण भी मिलते हैं।

नाम – एलोरा की गुफाएँ
स्थान – ओरंगाबाद (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – एलोरा की गुफाएँ भारतीय पाषाण शिल्प स्थापत्य कला का सार है। यहाँ 34 गुफाएँ (12 बौद्ध गुफाएँ, 17 हिन्दू गुफाएँ और 5 जैन गुफाएँ) हैं। यह स्थल अद्वितीय कलात्मक सृजन और तकनीकी उत्कृष्टता का नजारा है।

नाम – ताजमहल
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा पत्र – 1983
महत्वपूर्ण तथ्य – ताजमहल का निर्माण मुगल सम्राट शाहजहाँ ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में करवाया था। ताजमहल मुगल वास्तुकला का उत्कृष्ट नमूना है। इसकी वास्तु शैली फारसी, तुर्की, भारतीय और इस्लामी वास्तुकला के घटकों का अनोखा सम्मिलन है। 

नाम – महाबलीपुरम के स्मारक 
स्थान – महाबलीपुरम (तमिलनाडु) 
घोषणा वर्ष – 1984
महत्वपूर्ण तथ्य – महाबलीपुरम के स्मारकों को मुख्य रूप से चार श्रेणियों में बाँटा जाता है–रथ, मधण्डल, गुफा मन्दिर, संरचनात्मक मन्दिर और रॉक। ये स्मारक प्रागौतिहासिक वास्तु प्रतिभा का एक उदाहरण हैं तथा ये मौलिक परम्पराओं तथा सभ्यताओं का अनूठा मिश्रण है।

नाम – कोणार्क का सूर्य मन्दिर 
स्थान पुरी (ओडिशा)
घोषणा वर्ष – 1984 
महत्वपूर्ण तथ्य – यह मन्दिर मध्यकालीन वास्तु कला का अद्भभुत उदाहरण है। यह मन्दिर सूर्य देव को समर्पित है तथा एक रथ के आकार में बना हुआ है, जिसमें कुल 24 चक्र हैं और 7 घोड़े इस रथ को खींच रहे हैं। 

नाम – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – गोलाघाट (असोम)
घोषणा वर्ष – 1985
महत्वपूर्ण तथ्य – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्वाान एक सींग वाले गैंडे के लिए विशेष रूप से प्रसिद्ध है। यह लगभग 429,93 वर्ग किमी, क्षेत्रफल वाला एक बड़ा उद्वान है। 

नाम – केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – राजस्थान 
घोषणा वर्ष – 1985 
महत्वपूर्ण तथ्य – केवलादेव राष्ट्रीय उद्वान एक संरक्षित पक्षी अभ्यारण्य है, जिसमें हजारों की संख्या मे दुर्लभ और विलुप्त जाति के पक्षी पाए जाते हैं, जैसे-साइबेरिया से आए सारस। यहाँ लगभग 230 प्रजाति के पक्षियों ने अपना घर बनाया हुआ है। 

नाम – मानस राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – असोम
घोषणा वर्ष – 1985 
महत्वपूर्ण तथ्य – मानस राष्ट्रीय उद्वान अपने दुर्लभ और लुप्तप्राय स्थानिक वन्यजीवों के लिए जाना जाता है, जैसे-असोम छत वाले कछुएँ, हेपीड खरगोश, गोल्डन लंगूर और पैगी हॉग। यहाँ एक सींग वाले गैंडे और बारहसिंगा विशेष रूप से पाए जाते हैं। 

नाम – गोवा के गिरजाघर एवं कॉन्वेन्ट
स्थान – ओल्ड गोवा 
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – ओल्ड गोवा में एशिया का सबसे बड़ा चर्च है। ओल्ड गोवा में स्थित बासिलिका बोन जीसस चर्च, सेंट फ्रांसिस जेवियर को समर्पित है। बासिलिका बोन जीसस चर्च में सेंट फ्रांसिस जेवियर के अवशेष रखे गए हैं। 

नाम – फतेहपुर सीकरी 
स्थान – आगरा (उत्तर प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – फतेहपुर सीकरी हिन्दू और मुस्लिम वास्तुशिल्प के मिश्रण का सबसे अच्छा उदाहरण है। फतेहपुर सीकरी मस्जिद, शेख सलीम चिश्ती की दरगाह, आँख मिचौली, दीवान-ए-खास, बुलन्द दरवाजा आदि फतेहपुर सीकरी के प्रमुख स्मारक हैं। 

नाम – हम्पी अवशेष 
स्थान – हम्पी (कर्नाटक)
घोषणा वर्ष – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित हम्पी नगर में अब केवल खण्डहरों के रूप् में ही अवशेष हैं। हम्पी का विशाल फैलाव गोल चट्टानों के टीलों में फैला है। घाटियों और टीलों के बीच पाँच सौ से भी अधिक स्मारक चिन्ह्र हैं। 

नाम – खजुराहो के मन्दिर 
स्थान – छतरपुर (मध्य प्रदेश)
घोषणा पत्र – 1986
महत्वपूर्ण तथ्य – खजुराहो के मन्दिर हिन्दू धर्म और जैन धर्म क स्मारकों का एक समूह है। यहाँ के मन्दिर नगारा वस्तु कला से स्थापित किए गए थे, जिनमें ज्यादातर मूर्तियाँ कामुक कला की है अर्थात् अधिकतर मूर्तियाँ नग्न अवस्था में स्थापित हैं। 

नाम – एलिफेन्टा की गुफाएँ 
स्थान मुम्बई (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – इसका ऐतिहासिक नाम घारपुरी है। यहाँ कुल सात गुफाएँ है, जिनमें पहाड़ियों को काटकर मूर्तियाँ व मन्दिर बनाए गए हैं। एलिफेन्टा नाम पुर्तगालियों द्वारा यहाँ पर बने पत्थर के हाथी के कारण दिया गया है।

नाम – सुन्दरबन राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – पश्चिम बंगाल
घोषणा वर्ष 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – सुन्दरबन राष्ट्रीय उद्यान एक बाघ संरक्षित क्षेत्र एवं बायोस्फीयर रिजर्व क्षेत्र है। यह क्षेत्र मैन्ग्रोव के घने जंगलों से घिरा हुआ है और रॉयल बंगाल टाइगर का सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है। 

नाम – पत्तकल के स्मारक
स्थान – बागलकोट (कनार्टक)
घोषणा वर्ष – 1987
महत्वपूर्ण तथ्य – पत्तदकल क्षेत्र भारतीय स्थापत्य कला की वेसर शैली के आरम्भिक प्रयोगों वाले स्मारक समूहों के लिए प्रसिद्ध है। चालुुक्य वंश के राजाओं ने सातवीं और आठवीं शताब्दी में यहाँ अनेक मन्दिर बनवाए थे। 

नाम – चोल मन्दिर
स्थान – तमिलनाडु
घोषणा वर्ष – 1987–2004
महत्वपूर्ण तथ्य – चोल मन्दिर, चोल शासकों द्वारा दक्षिणी भारत में बनवाए गए थे। ये मन्दिर हैं– बृहदेश्वर मन्दिर (तंजावुर में), गंगईकोंडा चोलीश्वरम का मन्दिर तथा ऐरावतेश्वर मन्दिर (दारासुरम में)।

नाम – नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान एवं फूलों की घाटी
स्थान – उत्तराखण्ड
घोषणा वर्ष – 1988—2005
महत्वपूर्ण तथ्य – नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान को नन्दा देवी राष्ट्रीय अभ्यारण्य के नाम से भी जाना जाता है। फूलों की घाटी, नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान का ही एक भाग है, जो गढ़वाल (उत्तराखण्ड) में स्थित है। 

नाम – मुम्बई की विक्टोरियन गोथिक और आर्ट डेको इमारतें 
स्थान – मुम्बई
घोषणा वर्ष – 2018 
महत्वपूर्ण तथ्य – हाल ही में यूनेस्को द्वारा दक्षिण मुम्बई की दर्जनां विक्टोरिया गोथिक और आर्ट डेको इमारतों को विश्व विरासत का दर्जा प्रदान किया गया। ये इमारतें मुम्बई के वास्तुकला हेरिटेज का अलंकार है। 

नाम – सांची का स्तूप
स्थान – रायसेन (मध्य प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 1989
महत्वपूर्ण तथ्य – सांची का मुख्य स्तूप अशोक सम्राट ने बनवाया था। इसक केन्द्र में एक अर्धगोलाकार ईट निर्मित ढाँचा था, जिसमें भगवान बुद्ध के कुछ अवशेष रखे हुए थे। 

नाम – हुमायूँ का मकबरा
स्थान – दिल्ली
घोषणा वर्ष – 1993
महत्वपूर्ण तथ्य – हुमायूँ का मकबरा मुगल वास्तुकला से प्रेरित है। इसमं बलुआ पत्थर का प्रयोग किया गया था। यहाँ मुख्य इमारत मुगल सम्राट हुमायूँ का मकबरा है और इसमें हुमायूँ की कब्र सहित कई अन्य राजसी लोगों की भी कब्रे हैं।

नाम – कुतुबमीनार
स्थान – महरौली (दिल्ली)
घोषणा वर्ष – 1993
महत्वपूर्ण तथ्य – कुतुबमीनार का निर्माण दिल्ली के प्रथम मुस्लिम शासक कुतुबद्दीन ऐबक ने करवाया था। कुतुबमीनार ईट से बनी विश्व की सबसे ऊँची मीनार है। इसमें 379 सीढ़ियाँ हैं। मीनार के चारों ओर बने अहाते में भारतीय कला के कई उत्कृष्ट नमूने हैं। 

नाम – भारतीय पर्वतीय रेलवे
स्थान – दार्जिलिंग (पश्चिम बंगाल)
घोषणा वर्ष – 1999
महत्वपूर्ण तथ्य – भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में कई जगह रेलवे व्यवस्था की गई थी। जिन्हें सामूहिक रूप से भारतीय पर्वतीय रेलवे के नाम से जाना जाता है। इन रेलों में से निम्न चार रेल अभी भी चल रही है–दार्जिलिुंग हिमालयी रेल, नीलगिरी पवर्तीय रेल, कालका—शिमला रेल, माथेरान हिल रेल। 

नाम – बोधगया का महाबोधि मन्दिर
स्थान – बोधगया (बिहार)
घोषणा वर्ष – 2002
महत्वपूर्ण तथ्य – महाबोधि मन्दिर या महाबोधि विहार, बोधगया स्थित प्रसिद्ध बौद्ध विहार है। यह विहार उसी स्थान पर खड़ा है, जहाँ गौतम बुद्ध ने ईसा पूर्व छठी शताब्दी में ज्ञान प्राप्त किया था। 

नाम – भीमबेटका शैलाश्रय
स्थान – रायसेन (मध्य प्रदेश)
महत्वपूर्ण तथ्य – भीमबेटका स्थल आदि मानव द्वारा बनाए गए शैलचित्रों और शैलाश्रयों के लिए प्रसिद्ध है। ऐसा माना जाता है, कि यह स्थान महाभारत के चरित्र भीम से सम्बन्धित है एवं इसी से इसका नाम भीमबेटका पड़ा। 

नाम – चम्पानेर (पावागढ़ पार्क)
स्थान – गुजरात
घोषणा वर्ष – 2004
महत्वपूर्ण तथ्य – चम्पानेर-पावागढ़ पार्क में अनेकों स्मारक स्थित हैं, जिनमें से 38 स्मारकों को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के दायरे में लिया गया है। सवेक्षण में धरोहर का संरक्षण और पर्यटन को बढ़ावा देने का प्रयत्न किया जा रहा है। 

नाम – छत्रपति टर्मिनल
स्थान – मुम्बई (महाराष्ट्र)
घोषणा वर्ष – 2004
महत्वपूर्ण तथ्य – छात्रपति शिवाजी टर्मिनल मुम्बई का एक ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है, जो मध्य रेलवे, भारत का मुख्यालय है। यह भारत के व्यस्त्तम स्टेशनों में से एक है। आँकड़ों के अनुसार, यह स्टेशन ताजमहल के बाद भारत का सर्वाधिक छायाचित्रित स्मारक है। 

नाम – दिल्ली का लाल किला
स्थान – दिल्ली
घोषणा वर्ष – 2007
महत्वपूर्ण तथ्य – दिल्ली के लाल किले का निर्माण मुगल बादशाह शााहजहाँ ने करवाया था। यह किला लाल रेत पत्थर से निर्मित है। इस किले को इसकी दीवारों के लाल रंग के कारण 'लाल किला' कहा जाता है। 

नाम – जयपुर का जंतर-मंतर
स्थान – जयपुर (राजस्थान)
घोषणा वर्ष – 2010
महत्वपूर्ण तथ्य – जयपुर का जंतर-मंतर सवाई जयसिंह द्वारा 1724 से 1734 के बीच निर्मित एक खगोलीय वेधशाला है। इस वेधशाला में 14 प्रमुख यन्त्र हैं, जो समय मापने, ग्रहण की भविष्यवाण करने, किसी तारे की गति एवं स्थति जानने, सौर मण्डल के ग्रहों के दिक्पात जानने आदि में सहायक है। 

नाम – पश्चिमी घाट
स्थान – महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु
घोषणा वर्ष – 2012
महत्वपूर्ण तथ्य – भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत श्रृंखला को पश्चिमी घाट कहते हैं। विश्व में जैविकीय विविधता के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है और इस दृष्टि से विश्व में इसका 8 वाँ स्थान है। 

नाम – राजस्थान के पहाड़ी दुर्ग 
स्थान – राजस्थान 
घोषणा वर्ष – 2013
महत्वपूर्ण तथ्य – राजस्थान के छ: पहाड़ी दुर्ग निम्न हैं–
1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग, 2. कुम्भलगढ़ दुर्ग, 3. रणथम्भोर दुर्ग, 4. गागरौन दुर्ग, 5. आमेर दुर्ग तथा 6. जैसलमेर दुर्ग। ये दुर्ग 8 वीं से 18 वीं सदी तक चले राजपूत शासन का प्रतीक हैं। 

नाम – ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – कुल्लू (हिमाचल प्रदेश)
घोषणा वर्ष – 2014
महत्वपूर्ण तथ्य – ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क अपनी जैव विविधता के लिए प्रसिद्ध है। इसमें 25 से अधिक प्रकार के वन, 800 प्रकार के पौधे और 180 से अधिक पक्षियों की प्रजातियाँ पाई जाती है। 

नाम – रानी की वाव
स्थान – गुजरात
घोषणा वर्ष – 2014
महत्वपूर्ण तथ्य – यह एक अनूठा वाव है। इसके खम्भे सोलंकी वंश और उनके वास्तुकला के चमत्कार के समय में ले जाते हैं। वाव की दीवारों और स्तम्भों पर अधिकांश नक्काशियाँ राम, वामन, महिषासुरमर्दिनी, कल्कि आदि जैसे अवतारों के विभिन्न रूप भगवान विष्णु को समर्पित हैं। 

नाम – नालन्दा महाविहार (नालन्दा महाविहार)
स्थान – नालन्दा (बिहार)
घोषण वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – नालन्दा विश्वविद्यालय प्राचीन भारत में उच्च शिक्षा का सर्वाधिक महत्वपूर्ण और विख्यात केन्द्र था। गुप्तकालीन सम्राट कुमारगुप्त प्रथम ने 415-454 ई. पू. नालन्दा विश्वविघालय की स्थापना की थी। 

नाम – काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
स्थान – सिक्किम
घोषणा वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – कंचनगंगा राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना वर्ष 1977 में की गई थी। इस उद्यान का कुल क्षेत्रफल लगभग 1784 वर्ग किमी है, जो सिक्किम के कुल क्षेत्रफल का 25.14% है। कस्तूरी मृग, हिम तेन्दुए तथा हिमालय तहर जैसे वन्यजीव उद्यान में रहते है। 

नाम – चण्डीगढ़ कैपिटल कॉम्पलैक्स
स्थान – चण्डीगढ़
घोषणा वर्ष – 2016
महत्वपूर्ण तथ्य – चण्डीगढ़ कैपिटल कॉम्पलैक्स ली कोर्बुजिए द्वारा डिजायन किया गया एक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल है। यह 100 एकड़ जमीन क्षेत्र में फैला हुआ है। इसमें तीन इमारतें, तीन स्मारक और एक झील है। 

नाम – अहमदाबाद सिटी 
स्थान – अहमदाबाद (गुजरात) 
घोषण वर्ष – 2017
महत्वपूर्ण तथ्य – अहमदाबाद शहर की स्थापना सुल्तान अहमद शाह ने 1411 ईस्वी में की थी। इस नगर को भारत का मैनचेस्टर भी कहा जाता है। यह नगर साबरमती नदी के किनारे बसा हुआ है।

हिन्दी व्याकरण प्रश्नोत्तरी

प्रश्न=01. उच्छासन में संधि है
(अ) दीर्घ स्वर संधि
(ब) यण संधि
(स) व्यंजन संधि
(द) विसर्ग संधि

प्रश्न=02. परि: + कार से शब्द बनेगा
(अ) परिकार
(ब) परिष्कार
(स) परीस्कार
(द) पशशिकार

प्रश्न=03. नीरव का संधि विच्छेद होगा
(अ) नी:+ रव
(ब) नि:+ रव
(स) नि:+ रव
(द) नी:+ रव

प्रश्न=04. अतएव का संधि विच्छेद होगा
(अ) अंत+ एव
(ब) अत+ऐव
(स) अतः+ एव
(द) अतः+ ऐव

प्रश्न=05. परोपकार में कौन सी संधि है
(अ) गुण संधि
(ब) स्वर संधि
(स) व्यंजन संधि
(द) विसर्ग संधि

प्रश्न=06. तपोवन में कौन सी संधि है।
(अ) गुण स्वर संधि
(ब) व्यंजन संधि
(स) विसर्ग संधि
(द) कोई नहीं


प्रश्न=07. शिरोरेखा का संधि विच्छेद होगा
(अ) शिरो+रेखा
(ब) शिर+रेखा
(स) शिर+रेखा
(द) शिर: + रेखा

प्रश्न=08. गवाक्ष शब्द में विच्छेद है?
(अ) गव+ अक्ष
(ब) गो+ अक्षी
(स) गो+ अक्ष
(द) गवा+ अक्ष


प्रश्न=09.अधि+ईक्षण की संधि है?
(अ) अधीक्षण
(ब) अधिक्षण
(स) अध्यीक्षण
(द) अध्यीक्षण
heavy_check_mar
प्रश्न=10. सदैव शब्द का विच्छेद होगा?
(अ) सद+एव
(ब) सदा+एव
(स) सद+ऐव
(द) सदा+ऐव
:point_righ
प्रश्न=11. कथोपकथन में संधि है ?
(अ) यण संधि
(ब) वृधि संधि
(स) गुण संधि
(द) दीर्घ संधि

प्रश्न=12. अध्यापक में संधि है?
(अ) यण संधि
(ब) गुण संधि
(स) वृद्धि संधि
(द) अयादि संधि

प्रश्न=13.कौनसा शब्द स्वर संधि के बना है ?
(अ) जगन्नाथ
(ब) षडानन
(स) निरोग
(द) जनार्दन


प्रश्न=14. 'अम्मय' का सही संधि विच्छेद चुनिए?
(अ) अम्+मय
(ब) अ:+मय
(स) अप्+मय
(द) अम+मय

प्रश्न=15. 'गवीश' शब्द में कौनसी संधि है ?
(अ) दीर्घ
(ब) यण
(स) वृध्दि
(द) अयादि

प्रश्न=16. 'परमेश्वर' शब्द में कौनसी संधि है ?
(अ) दीर्घ
(ब) गुण
(स) वृध्दि
(द) अयादि
:point_right

प्रश्न=17. 'निर्लेप' शब्द का संधि विच्छेद है ?
(अ) निर्+लेप
(ब) नि:+लेप
(स) निर+अले़प
(द) नि:+र्लेप

करंट अफेयर्स दिसम्बर 2018


1.   उत्तर प्रदेश सरकार ने 25 दिसंबर 2018 को लखनऊ के लोक भवन में किस पूर्व प्रधानमंत्री की 25 फुट ऊंची प्रतिमा लगाने की घोषणा की? ― अटल बिहारी वाजपेयी
2 पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित और किस राज्य में 15,000 से अधिक बच्चों के जन्म के लिए मुफ्त प्रसव कराने वाली सुलागिट्टी नरसम्मा का निधन हो गया? ― कर्नाटक
3 पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान (चिड़ियाघर) में किस से संक्रमण के कारण 6 मोरों की मौत के बाद उसे अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है? ― H5N1
4 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के लोक भवन में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की कितने फुट ऊंची प्रतिमा लगाने की घोषणा की? ― 25 फुट
5 पाकिस्तान के एक अकाउंटेबिलिटी कोर्ट ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ को अल-अज़ीज़िया मिल्स भ्रष्टाचार मामले में कितने साल की सज़ा सुनाने के साथ 17.5 करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया है? ― 7 साल
6 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में किस राज्य में स्वास्थ्य, सड़क-राजमार्ग और उच्च शिक्षा से जुड़ी करीब 14,500 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ किया? ― ओडिशा
7 किस राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य के “बाल देखभाल संस्थान” का नाम बदलकर “जगन्नाथ आश्रम” किये जाने की घोषणा की? ― हरियाणा
8 भारत ने चीन के दुग्ध उत्पादों के आयात पर प्रतिबन्ध को कितने माह तक बढ़ाया है? ― चार माह
9 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किस राज्य में देश के सबसे लम्बे रेल-रोड पुल “बोगीबील” का उद्घाटन किया? ― असम
10 भारत में निम्न में से किस दिन ’’राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस’’ मनाया जाता है? ― 24 दिसंबर
11 किस देश ने 26 दिसंबर 2018 को कहा कि वह इंटरनेशनल व्हेलिंग कमीशन (आईडब्ल्यूसी) से हट रहा है? ― जापान
12 किस राज्य सरकार ने अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर राज्य के ग्रामीण छात्रों के लिए भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी इंटरनेशनल स्कूल की स्थापना करने की घोषणा की? ― महाराष्ट्र सरकार
13 केंद्र सरकार ने रामेश्वरम (तमिलनाडु) से राम सेतु के शुरुआती बिंदु माने जाने वाले धनुषकोडी तक कितने करोड़ रुपये की लागत से 17 किलोमीटर लंबी नई रेल लाइन बिछाए जाने को मंज़ूरी दी है? ― 208 करोड़ रुपये
14 केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा हाल ही में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में मानसून के बाद 39 में से कितने स्थानों पर साफ पानी पाया गया? ― 1
15 निम्न में से किस आसियान देश की संसद ने मारिजुआना के चिकित्सा उपयोग को मंजूरी दे दी है? ― थाईलैंड
16 निम्नलिखित में से किस राज्य में भारत का पहला संगीत संग्रहालय स्थापित किया जाएगा? ― तमिलनाड
17 राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस 2018 का विषय निम्न में से क्या था? ― उपभोक्ता शिकायतों के समयबद्ध निपटान
18 हाल ही में किस देश ने गूगल से प्रतिस्पर्धा करने हेतु अंतरिक्ष-आधारित ब्रॉडबैंड के लिए अपना पहला उपग्रह प्रक्षेपित किया? ― चीन
19 हाल ही में किस राज्य को सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करने वाला पहले भारतीय राज्य का दर्जा मिला? ― उत्तराखंड
20 हाल ही में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने घोषणा की है कि भारत के सबसे बड़े कैंसर संस्थान का उद्घाटन जनवरी 2019 में किस राज्य में किया जाएगा? ― हरियाणा

Sunday, January 6, 2019

प्राचीन भारत इतिहास के 200 सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

आज हम आपको इस पोस्ट में भारत के प्राचीन इतिहास की जानकारी प्रश्न उत्तरों में बताएँगे| यह जानकारी हम सब के लिए उपयोगी है| आज सभी कॉम्पीटिशन की परीक्षाओं में भारत के प्राचीन इतिहास से रिलेटिड काफी प्रश्न पूछे जाते है| इसलिए अगर कोई उम्मीदवार कॉम्पीटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहे है तो उन सब को इस पोस्ट में भारत का इतिहास सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी यानि के इतिहास के प्रश्न उत्तर से संबंधित काफी महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर दिए है .इन्हें आप ध्यान से पढ़िए, यह आपके लिए बहुत उपयोगी है|