Saturday, March 30, 2019

FSSAI क्या है?

हम सभी कुछ न कुछ बाज़ार से खाने की चीजे खरीदते रहते है| आप शायद एसी चीजों पर FSSAI लिखा हुआ देखा होगा; पर क्या आपको यह सवाल उठता है कि FSSAI क्या है? 

अगर आपके दिमाग में ऐसा सवाल नहीं भी उठा तो भी आपको FSSAI के बारे में जरूर जानना चाहिए क्युकी यह कोई साधारण चीज नहीं है और कई बार इसे जुड़े हुए सवाल कई सारे पेपर्स में भी आते है। अब जब खाने-पीने की चीजों में इसका आइकॉन आता है तो अब आप यह तो समझ ही गए होंगे की यह Foods अर्थात खाध्य सामग्री से जुड़ा हुआ है।


FSSAI का लक्ष्य ग्राहकों को जहरीले तथा खतरनाक खाद्य पदार्थों से बचाना होता है। खाद्य पदार्थों के विनिर्माण से लेकर उनकी पैकेजिंग तक के लिए FSSAI ने मानक निर्धारित किया है। जिससे की ग्राहकों को वह खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो सके जिससे की उन्हें नुकसान ना हो।

खाद्य पदार्थों की सुरक्षा को लेकर इस एजेंसी की स्थापना की गई। खाद्य सुरक्षा के अधिनियम के तहत खाद्य पदार्थ में मिलावट, तथा उत्पाद के लिए किसी ग्राहक को भ्रम में रखने पर बहुत सख्ती होती है। इसलिए अगर खाद्य से सम्बन्धित आप किसी प्रकार का बिज़नेस करते है तो उसके लिए FSSAI लाइसेंस होना ज़रुरी है।

FSSAI भारत सरकार की एजेंसी है। यह मानव के उपभोग के लिए भोजन का वितरण, उत्पादन, भंडारण, बिक्री को उपलब्ध करवाने का काम करती है। इसका काम यह सुनिश्चित करना भी होता है की नागरिकों को स्वस्थ और सुरक्षित भोजन मिल रहा है या नहीं।

FSSAI सिर्फ देश में ही खाद्य वस्तुओं की देखरेख नहीं करता बल्कि देश से जो वस्तुएँ इम्पोर्ट होती है उनकी भी देख-रेख करता है। FSSAI की स्थापना केंद्र सरकार द्वारा एक्ट 2006 के तहत 2011 में की गई थी। इसका मुख्यालय दिल्ली में स्थित है।

FSSAI खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता, भोजन में प्रयोग किया जान वाला रासायनिक, भोजन का रंग, महक, आकार आदि की जांच करता है। तथा जांच सही होने पर ही उसे विक्रेताओं के माध्यम से बाजार में बेचा जाता है। FSSAI समय-समय पर खुदरा एवं थोक खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता भी जांचता है।

No comments:

Post a Comment