Monday, August 12, 2019

पूरे विश्व में बोली की संख्या कितनी?


दुनिया के हर देश में अलग अलग भाषा बोली जाती है। लेकिन क्या आपको पता है कि दुनिया में कुल कितनी भाषाएँ बोली जाती हैं। इसका जवाब तो किसी के पास प्रमाणिक तौर पर नहीं है लेकिन लेकिन U.N. के अनुसार, दुनिया भर में बोली जाने वाली कुल भाषाएँ 6809 है।

वर्ष 2019 को संयुक्त राष्ट्र की स्थानीय भाषा का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया गया है संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार पापुआ न्यू गिनी में दुनिया की सबसे अधिक 840 स्वदेशी भाषाएँ बोली जाती है, जबकि भारत 453 भाषाओं के साथ चौथे स्थान पर है

हर किसी को लगता है कि अंग्रेजी और स्पेनिश भाषा पूरे विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। वास्तव में अंग्रेजी को बोलने वाले लोगों की संख्या चीन की मंदारिन भाषा से बहुत कम है। कुल आंकड़ों में अगर बात की जाए तो यह भाषा एक अरब से ज्यादा लोग बोलते हैं।

अंग्रेजी भाषा पूरे विश्व में अपनी पकड़ बना चुकी है मूल रूप से यह भाषा अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में बोली जाती है। लेकिन लगभग पूरे विश्व में 508 मिलियन लोग इस भाषा का इस्तेमाल करते हैं यह दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से है।


पर भारत एक ऐसा देश हैं, जहां हर शहर नहीं, बल्कि हर गांव, हर जिले के साथ भाषा बदल जाती है। विभिन्न सभ्यता, संस्कृति के साथ भारत में लगभग 780 भाषाएं बोली जाती हैं।

भारत में 22 भाषाओं को आधिकारिक तौर पर मान्यता प्राप्त है। जबकि मुख्य रूप से यहां सरकारी कामकाज की दो ही भाषा है, हिंदी व अंग्रेजी। हालांकि, हिंदी की उपयोगिता को लेकर राजनीतिक तौर पर समय समय पर विवाद उठता रहा है।

वहीं, संस्कृत को सभी भाषा की जनक के रूप में देखा जाता है। इसने कई भाषाओं को जन्म दिया है। लेकिन संस्कृत की तरह ही हर भाषा का अपना इतिहास, अपनी एक कहानी होती है। किसी भाषा की यात्रा मात्र साल दो साल की नहीं, सदियों की होती है। वहीं, यह काफी दिलचस्प भी होती है।
मराठी को योद्धाओं के भाषा के रूप में माना जाता है। भारत में मराठी मुख्य रूप से महाराष्ट्र में बोली जाती है।

मलयालम मुख्य रूप से भारत के केरल राज्य में बोली जाती है। जबकि दुनिया भर में 90 मिलियन से ज्यादा लोग मलयालम बोलते हैं।

भारत में हिंदी भाषा 77 प्रतिशत जनसंख्या द्वारा बोली जाती है। वहीं, विश्व भर में इसे 500 मिलियन से ज्यादा लोग बोलते हैं। यह भाषा दुनिया में सर्वाधिक बोले जाने वाली भाषाओं में चौथे स्थान पर आती है। इस भाषा को पूरे विश्व में 80 करोड लोग समझ सकते हैं। हिंदुस्तान में लगभग 45 करोड़ लोग हिंदी भाषा का उपयोग करते हैं।

कन्नड़ 2,500 वर्ष प्राचीन भाषा है। भारत में मुख्य रूप से यह कर्नाटक में बोली जाती है।

खरोष्ठी लिपि अब विलुप्त हो चुकी है। पहले यह गांधार क्षेत्र में बोली जाती थी। इसे भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व की सबसे पुरानी लिपि में से एक माना गया है

भारत में तमिल बोलने वालों की तादाद बहुत ज्यादा है। यह भाषा भारत के जड़ों में बसी है।
पंजाबी 750 AD and 1400 AD के बीच एक भिन्न भाषा के रूप में पहचाना गया। यह गुरुमुखी लिपि में लिखा जाता है।

उड़िया भारत की राज्यभाषा है। वहीं, पूरे विश्व भर में यह 35 मिलियन से ज्यादा लोगों द्वारा बोली जाती है।

नेपाली भारत में पश्चिम बंगाल, असम और सिक्किम के की इलाकों में बोली जाती है। यह नेपाल की राष्ट्र भाषा है।

तेलुगु भाषा भारत में मुख्य रूप से आंध्र प्रदेश में बोली जाती है। 11वीं सदी में सबसे पहले तेलुगु साहित्य में 'महाभारत' लिखी गई थी।

विश्व भर में 210 मिलियन से ज्यादा लोग बंगाली बोलते हैं। भारत में प्रमुख रूप से यह पश्चिम बंगाल में बोला जाता है।

No comments:

Post a Comment